Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Thursday, May 23, 2024
पलामू प्रमंडलमनिकालातेहार

सामुदायिक पुलिसिंग वॉलीबॉल प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में बरबैया ने खिताब पर जमाया कब्जा

कौशल किशोर पांडेय/मनिका

नक्सली हथियार छोड़ मुख्य धारा में लौटें : एसडीपीओ

लातेहार : मनिका प्रखंड के बरबैया गांव में सामुदायिक पुलिसिंग के तहत आयोजित वॉली बॉल प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में जुंगुर को हराकर बरबैया ने खिताब पर कब्जा जमाया। मौके पर एसडीपीओ दिलु लोहरा, मेजर राजकुमार लकड़ा, सार्जेंट मनीष कुमार भगत, थाना प्रभारी राणा भानू प्रताप सिंह, एसआई गौतम कुमार ने विजेता और उप विजेता टीम को संयुक्त रूप से ट्रॉफी देकर सम्मानित किया।

इसके पूर्व एसडीपीओ समेत अन्य अतिथियों ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया और सर्विस देकर प्रतियोगिता की शुरुआत की। मौके पर कुल चार टीम बरबैया, डोंकी, जुंगुर और जान्हों ने भाग लिया था। रेफरी की भूमिका आनंद राय और आकाश भारती ने निभाई।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मौके पर एसडीपीओ ने लोगों संबोधित करते हुए कहा कि समाज से भटके लोग जो आज भी नक्सली संगठन में घूम रहे हैं वे मुख्य धारा में लौट आयें। पुलिस उन्हें भरपूर मदद करेगी। उन्होंने कहा कि नक्सली संगठन अब पुलिस के सामने टिकने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि आत्मसमर्पण नीति के तहत नक्सली आत्मसमर्पण करें तभी उनका और उनके परिवार का कल्याण संभव है।

मौके पर उन्होंने डायन बिसाही, मानव तस्करी, बाल मजदूरी और सड़क सुरक्षा पर भी विस्तृत रूप से प्रकाश डाला। डायन विसाही पर कलाकारों ने नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत कर लोगों को अंधविश्वास से दूर रहने का संदेश दिया।

मौके पर मुजफ्फर आलम, मनोहर राम, बरबैया मुखिया पिंकी देवी, जानहो मुखिया बहादुर उरांव, डोंकी मुखिया भजेंद्र उरांव, विनय प्रसाद, मंटू प्रसाद, बलराम यादव, कृष्णा यादव, रामेश्वर सिंह, मार्कुश ब्रदर, अख्तर अंसारी समेत अनेक लोग उपस्थित थे।