Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

लातेहार: पुश्तैनी जमीन पर जबरन कब्जा का प्रयास, पीड़ित ने डीसी व एसपी को अर्जी देकर लगायी न्याय की गुहार

गोतिया ने भू-माफियाओं से मिलीभगत कर बेच दी अंतू यादव की जमीन

लातेहार : नगर पंचायत क्षेत्र के डुरुआ गांव निवासी अंतु यादव पिता स्व. फूटू यादव ने गोतिया व एक अन्य पर शहरी क्षेत्र की पुश्तैनी जमीन पर जबरन कब्जा करने का आरोप लगाया है। इसको लेकर पीड़ित अंतु यादव ने जिले के डीसी व एसपी को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगायी है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दोनों बेटे को जान से मारने की मिल रही धमकी

दिये गये आवेदन में बताया गया है कि उमेश कुमार यादव पिता स्व. जगदीश यादव, अनुपा देवी पति उमेश कुमार यादव (डुरुआ), सोनू कुमार यादव पिता रामचंद्र यादव (होटवाग) व उपेन्द्र प्रसाद पिता रामदेव प्रसाद (राजहार लातेहार) जबरन मेरी जमीन हड़पना चाहते हैं। मना करने पर मेरे दोनों बेटे बसंत यादव और रूपनाथ यादव को लगातार जान से मारने और फेंक देने की धमकी दे रहे हैं।

क्या है पूरा मामला

मामले को लेकर बुधवार को अंतू यादव ने बताया कि 26 जून 2021 को एकरारनामा सह समझौता पत्र के आधार पर शपथ पत्र संख्या 7848 के माध्यम से मेरे गोतिया उमेश कुमार यादव और मेरे बीच कुल जमीन का बंटवारा हो गया है। जमीन दोनों हिस्सों में बराबर पड़ी है। उमेश कुमार यादव अपने हिस्से की जमीन पहले ही बेच चुका है। इसके बाद भूमाफियाओं से मिलीभगत कर मेरी जमीन भी बेच दी है। अब मेरी जमीन पर बालू-ईंट गिराकर जबरन कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है। जबकि उसी जमीन पर मैं प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत नगर पंचायत विभाग से प्राप्त मकान का निर्माण कर अपने परिवार व बच्चों के साथ रह रहा हूं। मैं अपना और अपने परिवार का भरण-पोषण करने के लिए बाकी जमीन पर खेती कर रहा हूं।

कुछ लोग मेरी गरीबी का उठाना चाहते हैं फायदा

पीड़ित अंतू यादव ने आगे कहा है कि कुछ लोग मेरी गरीबी का फायदा उठाना चाहते हैं। ऐसे में जिला व पुलिस प्रशासन से ही न्याय मिलने की उम्मीद है। उन्होंने डीसी भोर सिंह यादव व एसपी अंजनी अंजन से मामले की जांच कर न्याय दिलाने की मांग की है।