Breaking :
||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 28 फरवरी को आयेंगी रांची, सुरक्षा के रहेंगे कड़े इंतजाम||झारखंड: अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर युवती से किया दुष्कर्म, धर्म परिवर्तन कराकर जबरन करा दी शादी||लातेहार: बालूमाथ में लोडेड देशी पिस्टल के साथ दो युवक गिरफ्तार, कार जब्त||पीएम मोदी ने समुद्र में लगायी डुबकी, जलमग्न कृष्ण की नगरी द्वारका को देखा||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल
Monday, February 26, 2024
पलामू प्रमंडललातेहारहेरहंज

लातेहार: तीन माह पूर्व हेरहंज स्थित ससुराल से लापता युवक सकुशल बरामद

लातेहार : तीन माह पूर्व हेरहंज थाना क्षेत्र के छाया गांव स्थित अपने ससुराल से लापता युवक को थाना प्रभारी नीतीश कुमार व एसआई कैलाश मंडल की पहल पर सकुशल बरामद कर उसके ससुराल वालों को सौंप दिया। युवक के मिलने पर ससुर कपिलदेव गंझू और सास सरहुली देवी ने पुलिस के प्रति आभार व्यक्त किया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मालूम हो कि सुलेंद्र गंझू पिता पुषन गंझू ग्राम डूडाहुतु थाना बरियातू निवासी हेरहंज थाना क्षेत्र के ग्राम छाया स्थित अपने ससुराल आया था। कपिलदेव गंझू अपने ससुर के जिसके बाद वह अपने ससुराल के किसी अन्य व्यक्ति के बहकावे में आकर बिना किसी को बताए गांव के लोगों के साथ बाहर मजदूरी करने दूसरे प्रदेश चला गया। शाम को जब वह घर नहीं पहुंचा तो ससुराल वालों ने खोजबीन शुरू की। इसी बीच गांव के किसी अन्य व्यक्ति ने बताया कि गांव का दिनेश यादव 13 मजदूरों को काम के लिए कानपुर ले जा रहा था। इसके बाद ससुराल वालों ने बाहर गये सभी मजदूरों से संपर्क किया लेकिन किसी ने नहीं बताया कि वे उनके साथ है, जिससे ससुराल वाले डर गये। इसके बाद वे लोग आनन-फानन में हेरहंज थाना पहुंचे और गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराते हुए न्याय की गुहार लगायी।

इसके बाद थाना प्रभारी नीतीश कुमार व एसआई कैलाश मंडल ने जांच शुरू की। सीआईजी के प्रकाशन के बाद जांच के दौरान युवक की पहचान दिल्ली में हुई। पहचान के बाद दिल्ली पुलिस की मदद से हेरहंज थाना पुलिस ने युवक को बरामद कर उसके ससुराल वालों को सौंप दिया।

बरामद युवक सुलेंद्र गंझू ने थाने में बताया कि हम 13 लोगों के साथ अपने ससुराल से मजदूरी करने के लिए जा रहे थे, तभी टोरी रेलवे स्टेशन से ट्रेन पकड़ने के बाद मुझे लघुशंका लगी। इसी बीच मैंने अपना बैग अपने दोस्तों को सौंप दिया और बाथरूम चले गये। बाथरूम से निकलने के बाद हम गलती से किसी दूसरी बोगी में चले गये। इसके बाद से हम अपने साथी से नहीं मिल सके। किसी तरह हम दिल्ली पहुंचे। हमने वहां काम करते हुए लगभग तीन महीने बिताये। मुझे नहीं पता था कि हम कहां आये हैं क्योंकि मैं अनपढ़ हूं। बाद में पुलिस की मदद से मैं अपने परिवार से मिल सका।

Herhanj Latehar Latest News