Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Monday, April 15, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: राष्ट्रीय लोक अदालत में 7993 मामलों का निपटारा, करीब छह लाख रुपये राजस्व की वसूली

लातेहार : शनिवार को प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश-सह-अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकार अखिल कुमार के निर्देशानुसार व्यवहार न्यायालय परिसर में झालसा एवं नालसा के तत्वावधान में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम का उद्घाटन प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश सह अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकार अखिल कुमार, उपायुक्त सह उपाध्यक्ष गरिमा सिंह, प्रधान न्यायाधीश, कटुम्ब न्यायालय राजीव आनन्द, अपर सत्र न्यायाधीश प्रथम संजीव कुमार दास, अपर सत्र न्यायाधीश तृतीय संजीव झा एवं अधिवक्ता संध के अध्यक्ष राजमणी प्रसाद के द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मौके पर प्रधान जिला एवं सत्र न्यायधीश ने कहा कि विवाद समाज में सघंर्ष उत्पन्न करता है। परंतु लोक अदालत एक ऐसा माध्यम है, जहा न कोई हारता है और न कोई जीतता है, यंहा विवादों का निपटारा आपसी सहमति से होता है। राष्ट्रीय लोक अदालत का सिद्धांत त्वरित न्याय से है। न्याय होते हुए भी दिखायी पड़ना चाहिए, इसके लिए राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जाता है।

उपायुक्त गरिमा सिंह ने कहा की आम जनमानस के कठिनाई को देखते हुए नालसा एवं झालसा के तत्वावधान में नियमित समयांतराल पर राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जाता है। न्यायालय तथा प्रशासन आमजनों का सदैव न्याय दिलवाने हेतु तत्पर है तथा लोगों से अपील की कि प्रशासन पर विश्वास बनाये रखें।

इस राष्ट्रीय लोक अदालत मेें कुल 07 बेंच बनाये गये थे। जिसमें इस राष्ट्रीय लोक अदालत में कुल 7993 वादों का निष्पादन किया गया तथा कुल 5,94,66,568/- रुपये राजस्व की वसूली की गयी। कार्यक्रम का संचालन जिला विधिक सेवा प्राधिकार के सचिव स्वाति विजय उपाध्याय ने किया। जिन्होंने समय-समय पर आयोजित होने वाले लोक अदालत के महत्वपूर्ण और लाभकारी पक्षों का वर्णन किया। साथ ही इस राष्ट्रीय लोक अदालत के सफल आयोजन में सभी की भागीदारी के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस दौरान उप विकास आयुक्त सुरजीत कुमार सिंह, अपर समाहर्ता रामा रविदास, लातेहार व्यवहार न्यायालय के न्यायिक पदाधिकारीगण, अपर मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी शशि भूषण शर्मा, अनुमण्डलीय न्यायिक दण्डाधिकारी मिथिलेश कुमार, सदस्य जिला उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष एवं सदस्य, अधिवक्तागण, एसडीपीओ अरविंद कुमार, विभिन्न बैंकों के शाखा प्रबंधक, विभिन्न विभागों के अन्य पदाधिकारीगण व कर्मी तथा व्यवहार न्यायालय के कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

Latehar Latest News Today