Breaking :
||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी||लातेहार: सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डीसी ने रामनवमी जुलूस निकालने वाले मार्गों का किया निरीक्षण||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत
Sunday, April 14, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार के 4 लोक कलाकारों को मिला पद्मश्री डॉ. रामदयाल मुंडा अवार्ड

हरिओम प्रसाद/लातेहार

लातेहार : रांची में पद्मश्री मुकुंद नायक के हाथों लातेहार के 4 लोक कलाकारों को पद्म श्री डॉ. रामदयाल मुंडा पुरस्कार से सम्मानित किया गया। जिसमें रविकांत भगत को कुड़ुख गायन एवं संगीत निर्देशन, सुकुल उरांव को कुड़ुख गायन एवं संगीत निर्देशन, रिंकू उरांव को कुड़ुख सांस्कृतिक गीतों में अच्छे अभिनय के लिए जबकि जितेंद्र भगत को कुड़ुख गीतों और वीडियो में अच्छी कोरियोग्राफी के लिए सम्मान मिला।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बता दें कि रविकांत भगत 20 साल से लगातार कुड़ुख गायकी में कुड़ुख संस्कृति के गीत गा रहे हैं और इस कार्य के लिए उन्हें कई सम्मान भी मिलते रहे हैं। वहीं सुकुल उरांव लगातार 10 साल से कुड़ुख संस्कृति में गायक और संगीत निर्देशक के रूप में काम कर रहे हैं। रिंकू उरांव व जितेंद्र भगत ने बताया कि वे भविष्य में भी कुड़ुख संस्कृति पर काम करते रहेंगे।