Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में हुए खूनी संघर्ष में 13 घायल, 9 रिम्स रेफर

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : गुरुवार की दोपहर करीब 12 बजे बालूमाथ प्रखंड मुख्यालय के मुरपा मोड के पास भूमि विवाद को लेकर दो पक्षों में खूनी संघर्ष हुई। जिसमें 13 लोग घायल हो गये।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

घायलों में प्रथम पक्ष के ब्रह्मदेव पांडे के पुत्र सत्येंद्र पांडे, अरविंद पांडे, रूपेश पांडे, कृष्णदेव पांडे के पुत्र ओमकार पांडे, पंचानन पांडे, सच्चिदानंद पांडे, सत्येंद्र पांडे की पत्नी नीलम पांडे, पंचानन पांडे की पत्नी नीतू पांडे, सच्चिदानंद पांडे की पत्नी सुषमा पांडे व काजल पांडे शामिल है। जबकि दूसरे पक्ष के स्वर्गी कोलेश्वर राम के पुत्र सुरेश राम, शंकर राम व थाना क्षेत्र के दिरीदाग ग्राम निवासी गंगा राम के पुत्र अवधेश पासवान शामिल हैं।

सभी घायलों का इलाज बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में किया गया। लेकिन सत्येंद्र पांडे, रुपेश पांडे, अरविंद पांडे ,ओमकार पांडे, पंचानन पांडे, सच्चिदानंद पांडे, सुरेश राम, शंकर राम व अवधेश पासवान की स्थिति को गंभीर देखते हुए प्राथमिक उपचार के पश्चात बेहतर इलाज के लिए रांची रिम्स रेफर कर दिया गया।

इस घटना के विरोध में प्रथम पक्ष के लोग निष्पक्ष जांच और घटनास्थल पर लातेहार उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक को आकर हस्तक्षेप करने की मांग को लेकर बालूमाथ मुरपा मोड रांची चतरा मुख्य मार्ग पर धरने पर बैठ गये। जबकि घायल होने के बावजूद इलाज कराने से मना कर दिया। करीब आधे घंटे तक घायल लोगों का इलाज लाख समझाने के बावजूद नहीं हो सका। तत्पश्चात लातेहार पूर्व जिप उपाध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद साहू की पहल पर सभी घायलों का इलाज जाम अस्थल और बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में किया गया।

इधर, पिछले 4 घंटे से बालूमाथ मुरपा मोड़ पर मुख्य मार्ग जाम लगा हुआ है जहां सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गयी है और लोगों को आवागमन में काफी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।

इधर बालूमाथ पुलिस इंस्पेक्टर शशि रंजन कुमार, थाना प्रभारी प्रशांत प्रसाद, बारियातू थाना प्रभारी मुकेश चौधरी समेत कई पुलिस अधिकारी और प्रशासनिक पदाधिकारी जाम स्थल पहुंचकर मामले की छानबीन में जुट गये हैं। समाचार लिखे जाने तक बालूमाथ मुख्य मार्ग में जाम लगा हुआ है।

मिली जानकारी के अनुसार बालूमाथ निवासी राजद नेता सुरेश राम और पांडे परिवार के बीच विगत कुछ माह से जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। दोनों ही पक्ष उस जमीन पर अपना दावा ठोक रहे थे। इसी बीच गुरुवार को सुरेश राम विवादित जमीन पर चारदीवारी निर्माण कराना चाह रहे थे। इस दौरान पांडे परिवार के लोग भी विवादित जमीन के पास पहुंचे काम रोकने को कहा। इस बात को लेकर दोनों पक्षों के बीच तनातनी हो गयी और मामला मारपीट तक जा पहुंच गया। जिसमें पांडे परिवार की ओर से 10 व सुरेश राम पक्ष की ओर से 3 लोग घायल हो गये।