Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
देश-विदेश

नक्सलियों की अब खैर नहीं ! सैटेलाइट ट्रैकर का होगा इस्तेमाल, बड़े ऑपरेशन की तैयारी

सुरक्षा बल नक्सल प्रभावित इलाकों में अपनी पैठ लगातार मजबूत करने में लगे हैं। सुरक्षाबलों के जवानों ने मांद में घुसकर नक्सलियों के खिलाफ बड़े ऑपरेशन की योजना तैयार की है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सुरक्षा बल उपग्रहों से संचालित होने वाले सैटेलाइट ट्रैकर के माध्यम से काम करेंगे। जंगलों में नक्सलियों को ढूंढ़ना बेहद मुश्किल होता है। इसलिए अब अत्याधुनिक ड्रोन के साथ-साथ सैटेलाइट से लाइव तस्वीरों का इस्तेमाल किया जाएगा। आपको बता दें कि अभी भी झारखंड और छत्तीसगढ़ के कई इलाकों में खूंखार नक्सली मौजूद है।

कैसे काम करता है सैटेलाइट ट्रैकर :-

सैटेलाइट के माध्यम से किसी भी एक स्थान की लाइव तस्वीरें खींची जाएगी। फिर इन तस्वीरों को सुरक्षा बलों के नियंत्रण कक्ष तक उपलब्ध कराई जाएंगी। उसके बाद नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन में उन तस्वीरों को सुरक्षा बलों को साझा किया जाएग, जहां नक्सलियों की मौजूदगी है। इसके साथ ही रास्ते की सटीक जानकारी के लिए भी इसका उपयोग किया जाएगा। ताकि ऑपरेशन के बाद जवान जंगल में न भटकें और उन्हें सही रास्ता मिल सके।