Breaking :
||पलामू: दहेज लोभियों ने ले ली बिहार की बेटी की जान, ससुराल वालों पर केस दर्ज||कांग्रेस सांसद धीरज प्रसाद साहू के ठिकानों से मिला ‘कुबेर का खजाना’, नोट इतने कि मशीनों ने काम करना किया बंद||लातेहार: दहेज हत्या के आरोपी पति को 15 वर्ष सश्रम कारावास की सजा||झारखंड के नये मुख्य सचिव एल खियांग्ते ने पदभार संभाला, कहा- राज्य का सर्वांगीण विकास प्राथमिकता||15 दिसंबर से शुरू होगा झारखंंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र||लातेहार: आपात स्थिति में ‘शक्ति’ एप के जरिये महिलायें दर्ज करा सकती हैं शिकायत, महिलाओं के लिए है कारगर||लातेहार: अगर आपात स्थिति में आपको चाहिए पुलिस की सहायता तो डायल करें 112, एसपी ने किया लांच||लातेहार: हेरहंज से बाइक चोर मोहम्मद दिलशाद गिरफ्तार, चोरी की 9 बाइकें बरामद, जेल||लातेहार में पांच लाख का इनामी भाकपा माओवादी सब जोनल कमांडर गिरफ्तार, हार्डकोर नक्सली छोटू खरवार के दस्ते का करता था नेतृत्व||मुख्य सचिव पद से हटाये गये सुखदेव सिंह, एल खियांग्ते को मिली जिम्मेदारी
Thursday, December 7, 2023
लोहरदगा

लोहरदगा: प्रेम प्रसंग में एक समुदाय ने दूसरे समुदाय के युवक को बेरहमी से पीटा, स्थिति तनावपूर्ण

लोहरदगा : कुडू थाना क्षेत्र के फूलसुरी गांव में प्रेम प्रसंग के मामले में शुक्रवार को एक समुदाय के लोगों ने दूसरे समुदाय के युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। साथ ही आपसी सौहार्द बिगड़ने की भी संभावना थी।

ग्रामीणों से मामले की जानकारी थाना प्रभारी अभिनव कुमार को मिली। सूचना मिलते ही वे तुरंत पुलिस बल के साथ फूलसुरी गांव पहुंचे और मामले को शांत कराया। साथ ही पिटाई कर रहे युवक को इलाज के लिए कुडू अस्पताल भेजा गया। जहां इलाज के बाद युवक की हालत गंभीर देखकर डॉक्टरों ने युवक को रिम्स रेफर कर दिया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

बाद में डीसी बाघमारे के निर्देश पर एसडीओ अरविंद कुमार लाल, इंस्पेक्टर मंटू कुमार, बीडीओ मनोरंजन कुमार और सीओ प्रवीण कुमार सिंह गांव फुलसुरी पहुंचे। जहां ग्रामीणों से मिलकर मामला शांत कराया। फिलहाल स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है।

मामले को लेकर पूछताछ में दूसरे समुदाय के लोगों ने एसडीओ को बताया कि मेरी बेटी सामान लाने जा रही थी। इसी दौरान गांव के युवक सामान उठाने के बहाने घर के अंदर ले जाकर दुष्कर्म करने का प्रयास किया।

उधर, घायल युवक के परिजनों ने लिखित आवेदन देकर पुलिस को बताया कि युवक अपने घर के पास कुम्बा बाड़ी में स्नान कर रहा था। इसी बीच गांव के करीब एक दर्जन लोग आ गए और मेरे बेटे को ले गए। इसी दौरान रस्सी से बांधकर दोनों ने जोर-जोर से पीटना शुरू कर दिया। इस दौरान गांव के कुछ लोग और एक गर्भवती महिला उसे बचाने गए। जिसके साथ भी मारपीट की गई।