Breaking :
||रांची में बाइक सवार बदमाशों ने पति-पत्नी को मारी गोली, दोनों की मौत||TSPC के जोनल कमांडर ने किया बड़ा खुलासा, झारखंड में हिंसा फैलाने के लिए खरीद रहा था विदेशी हथियार||भारत-इंग्लैंड टेस्ट मैच को लेकर बल्लेबाज शुबमन गिल ने पत्रकारों से कहा- रांची में ही सीरीज जीतने के लिए हम तैयार||पलामू: बच्चों को आशीर्वाद देने निकले किन्नरों से मारपीट, आक्रोश||झारखंड: प्रेमी ने शादी से किया इंकार तो प्रेमिका ने दे दी जान||गढ़वा: JJMP के उग्रवादियों ने पुल निर्माण स्थल पर मचाया उत्पात, मशीनों में की तोड़फोड़, मजदूरों से मारपीट||झारखंड विधानसभा का बजट सत्र 23 फरवरी से, स्पीकर ने की उच्च स्तरीय बैठक||विधायक भानु प्रताप शाही एससी-एसटी एक्ट में बरी, चार लोगों को छह-छह माह कारावास की सजा||रांची पहुंची भारत और इंग्लैंड की टीमें, पारंपरिक अंदाज में हुआ स्वागत||लातेहार: ईंट भट्ठा पर फायरिंग कर अपराधियों ने फैलायी दहशत, कर्मियों को पीटा, संचालक को दी चेतावनी
Thursday, February 22, 2024
झारखंडलोहरदगा

लोहरदगा में उपद्रवियों ने एक और दुकान में लगाई आग, पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास को जाने से रोका

लोहरदगा : जिले के सदर थाना क्षेत्र के हिरही गांव में 10 अप्रैल 2022 की शाम रामनवमी जुलूस में पथराव की घटना के बाद भड़की सांप्रदायिक हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। उपद्रवी प्रशासन को लगातार चुनौती दे रहे हैं।

इस घटना में 10 अप्रैल 2022 को एक दर्जन वाहनों और तीन घरों को जलाने के बाद पुलिस-प्रशासन ने व्यापक सुरक्षा इंतजामों से हिंसा पर काबू पाने की उम्मीद जताई थी, लेकिन सोमवार की देर रात एक बार फिर बदमाशों ने हेसल गांव में एक झोपड़ीनुमा होटल में आग लगाकर पुलिस प्रशासन को चुनौती दी।

इधर प्रशासन ने पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास को मौके पर जाने से रोक दिया है। जिसके बाद बीजेपी समर्थकों ने झारखंड सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी की। रघुवर दास लोहरदगा परिसदन रुके हुए हैं।

इसे भी पढ़ें :- मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन करेंगे मर्सिडीज और लैंडरोवर की सवारी

वहीं झारखंड सरकार के मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा है कि रघुवर दास के लोहरदगा आने से सांप्रदायिक हिंसा को और बढ़ावा मिल सकता है। मंत्री ने कहा कि लोहरदगा में रघुवर दास का स्वागत है लेकिन उन्हें हिंसाग्रस्त इलाकों में नहीं जाना चाहिए. वह चाहें तो यहां के पुलिस अधिकारियों और जिला उपायुक्त से मुलाकात कर घटना के संबंध में की गई प्रशासनिक कार्रवाई की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

बताया जा रहा है कि लोहरदगा-चंदवा मुख्य मार्ग पर सदर थाना क्षेत्र के हेसल गांव में सोमवार की रात बदमाशों ने झोपड़ीनुमा होटल में आग लगा दी। यह होटल एक खास समुदाय के व्यक्ति का बताया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें :- देवघर रोपवे हादसा : सभी फंसे हुए लोगों को निकाला गया, 3 की हुई मौत

खास बात यह है कि इस पूरे इलाके में भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात हैं और पुलिस-प्रशासन हर कोने पर नजर रखे हुए है। बावजूद इसके इस तरह की घटना ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं।

जिले के विभिन्न ग्रामीण इलाकों में भी स्थिति तनावपूर्ण है, पर स्थिति नियंत्रण में है। अलग-अलग समुदाय के लोग बैठक करते हुए अपनी सुरक्षा को लेकर योजना बना रहे हैं। हालांकि हेसल की घटना के अलावा कहीं और किसी प्रकार की हिंसा की सूचना नहीं है।

विगत 48 घंटे के दौरान लोहरदगा जिले में स्थिति सामान्य होती हुई नजर नहीं आ रही है। इधर 36 घंटे से ज्यादा समय से लोहरदगा जिले में लगातार इंटरनेट सेवा ठप है। जिससे आम-खास लोग काफी परेशान हैं। इंटरनेट सेवा ठप रहने से सूचनाओं का आदान-प्रदान नहीं हो रहा है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें