Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

लोहरदगा: घर में घुसकर नकाबपोश अपराधी ने भाजपा नेता को मारी गोली, मौत

लोहरदगा : जिले के कुडू थाना अंतर्गत जीमा-चटकपुर गांव में भाजपा नेता रतनू महतो की गोली मारकर हत्या कर दी गई। यह घटना रविवार देर रात लगभग दो बजे की बताई जा रही है। घटना की पुष्टि एसडीपीओ बीएन सिंह ने की है। इस मामले में पुलिस तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

बताया जाता है कि जीमा-चटकपुर गांव निवासी बिछुआ महतो के पुत्र व भाजपा संगठन के चटकपुर बूथ अध्यक्ष रत्नु महतो (53 वर्ष) अपने घर के बरामदे में घर के बच्चे के साथ सो रहे थे। एक बेटा वहां पढ़ रहा था। घर में दूसरा बेटा-बेटी, दामाद, बहू, पत्नी समेत सभी सदस्य मौजूद थे। घर का दरवाजा खुला था, इसी दौरान एक नकाबपोश व्यक्ति घर में घुस गया और रत्नु महतो के माथे में गोली मार दी। गोलियों की आवाज सुनकर बेटे समेत घर के अन्य सदस्य उठ गए। नकाबपोश युवक को पकड़ने का प्रयास किया, लेकिन वह भागने में सफल रहा।

इसे भी पढ़ें :- पलामू: तरहसी में नाबालिक के साथ गैंग रेप, चार लोगों ने बनाया हवस का शिकार

घटना के बाद परिजनों ने कुडू थाने को सूचना दी। आनन-फानन में रतनू को इलाज के लिए कुडू अस्पताल ले जाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर हालत को देखते हुए रिम्स भेजा गया। बीच रास्ते में ही मांडर के आसपास उसकी मौत हो गई।

जानकारी के मुताबिक़ रत्नू के परिवार के कुछ लोगों के बीच जमीन को लेकर विवाद चल रहा था, साथ ही दूध संग्रहण केंद्र को लेकर ग्रामीणों से विवाद भी चल रहा था। इस घटना से पहले भी रतनू को मारने का असफल प्रयास किया गया था। साथ ही रतनू के बेटे को कुएं में धकेल कर मारने की कोशिश की गई।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

मामले में कुडू थाना प्रभारी अनिल उरांव का कहना है कि पुलिस संदेह के आधार पर 4 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। इस पूरे मामले में जमीन विवाद का मामला सामने आया है। परिजनों से बात करने के बाद पुलिस जांच के साथ आगे की कार्रवाई में जुट गई है. जल्द ही इसका खुलासा हो जाएगा और हत्यारा सलाखों के पीछे होगा।