Breaking :
||चतरा समेत इन चार लोकसभा सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशियों को विरोधियों से अधिक अपनों से खतरा||झारखंड: पहले चरण के चुनाव में पलामू समेत इन चार लोकसभा सीटों पर युवा मतदाता निभायेंगे निर्णायक भूमिका||आय से अधिक संपत्ति मामले में निलंबित चीफ इंजीनियर वीरेंद्र राम के पिता और पत्नी के खिलाफ कुर्की वारंट का इश्तेहार जारी||पलामू लोकसभा: शीर्ष माओवादी कमांडर रहे कामेश्वर बैठा समेत तीन उम्मीदवारों ने किया नामांकन||पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की जमानत याचिका पर कल होगी सुनवाई||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, शादी समारोह से लौट रही कार पेड़ से टकरायी, पति की मौत, पत्नी और पोते की हालत नाजुक||लातेहार: सिरफिरे युवक ने दो महिलाओं समेत पिता को कुल्हाड़ी से काट डाला, गिरफ्तार||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये
Wednesday, April 24, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलोहरदगा

लोहरदगा में माओवादी रवींद्र गंझू के दस्ते के एरिया कमांडर ने किया सरेंडर

Area commander of Maoist Ravindra Ganjhu’s

लोहरदगा : ‘नई दिशा’ के तहत माओवादी संगठन के एरिया कमांडर सूरजनाथ खेरवार ने लोहरदगा के बक्सीडिपा स्थित न्यू पुलिस लाइन में बुधवार को सरेंडर कर दिया। डीसी-एसपी के सामने नक्सली ने सरेंडर किया।

सरेंडर के दौरान सरकार की नीति के तहत दी जाने वाली राशि में से हार्डकोर नक्सली को एक लाख रुपये का चेक और गुलदस्ता भेंट किया गया। नक्सली सूरजनाथ ने आत्मसमर्पण करने के बाद अन्य नक्सलियों से भी बंदूक छोड़कर सरकार की मुख्यधारा में शामिल होने की अपील की है।

हार्डकोर नक्सली पेशरार थाना अंतर्गत बुलबुल गांव निवासी बालकिशुन खेरवार का पुत्र है। नक्सली सूरजनाथ मुख्यधारा से भटककर संगठन में शामिल हो गया था। नक्सली सूरजनाथ पर पेशरार थाना के अलावा सेरेंगदाग, बिशुनपुर और चंदवा थाना में कई मामले दर्ज हैं।

मौके पर डीसी वाघमारे प्रसाद कृष्ण ने कहा कि सरकार की नीति चरमपंथी संगठन के लिए बेहद फायदेमंद है, जो मुख्यधारा से जुड़ने का मौका देती है। कहा कि अन्य उग्रवादियों को सरकार की नीति के तहत इस धारा में शामिल होकर अपनी जिंदगी सुधारने का मौका दिया जाएगा। साथ ही कहा कि यह योजना उन उग्रवादियों के लिए वरदान साबित होगी, जो मुख्यधारा से जुड़कर परिवार का भविष्य संवारने का काम कर सकते हैं।

वहीं एसपी प्रियंका मीणा ने बताया कि डबल बुल ऑपरेशन के तहत अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र में जिला पुलिस जगुआर, कोबरा, सैट द्वारा लगातार उग्रवादियों के खिलाफ तलाशी अभियान चलाया जा रहा है. जिसमें मुठभेड़ के दौरान कुछ आतंकियों की जान चली गई और माओवादी संगठन के कुछ उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया.

इसे देखते हुए माओवादी संगठन के एरिया कमांडर सूरजनाथ खेरवार रवींद्र गंजू के दस्ते से बाहर निकल आए और खुद को बचाते हुए प्रशासन के सामने सरेंडर कर दिया। एसपी ने कहा कि डबल बुल अभियान का नाम बुलबुल गांव के नाम पर रखा गया है। इसके तहत नक्सलियों को उन वन क्षेत्रों में संयुक्त तलाशी अभियान में करारा जवाब दिया गया।

Area commander of Maoist Ravindra Ganjhu’s