Breaking :
||लातेहार में PLFI के दो उग्रवादी हथियार के साथ गिरफ्तार, ठेकेदारों को फोन पर देते थे धमकी||पलामू: JJMP के सब जोनल कमांडर ने किया सरेंडर, खोले कई चौंकाने वाले राज||लातेहार: अनियंत्रित बोलेरो ने खड़े ट्रक में मारी टक्कर, दो युवकों की मौत, चार की हालत नाजुक||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा

मतगणना पूरी होने के साथ ही बालूमाथ में जीत को लेकर जोड़-तोड़ में लगे लोग, चारों तरफ चुनावी चर्चा

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : लातेहार जिले के बालूमाथ प्रखंड क्षेत्र के तीसरे चरण में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तहत 24 मई को मतदान की प्रक्रिया संपन्न हुई। जिसमें प्रखंड क्षेत्र के 64516 मतदाताओं में से 69 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

इस पंचायत चुनाव में बालूमाथ प्रखंड के 13 पंचायत क्षेत्रों में मुखिया पद के लिए 78, जिला परिषद पद के लिए 8, पंचायत समिति सदस्य के पद के लिए 56 और 43 वार्ड सदस्य के पद के लिए 97 उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं। जबकि 103 वार्ड सदस्य निर्विरोध चुने गए हैं। जिनकी किस्मत का फैसला वोटों की गिनती के बाद ही होगा।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

इधर प्रखंड मुख्यालय समेत ग्रामीण अंचल में विभिन्न पदों पर मतदान संपन्न होने के बाद समर्थकों ने प्रत्याशियों की जीत-हार के आंकड़े जुटाना शुरू कर दिया है। कौन जीत रहा है और कौन हार रहा है, इसे लेकर उम्मीदवारों में अनिश्चितता ने उनके दिल की धड़कन बढ़ा दी है।

पलामू प्रमंडल की ताज़ा ख़बरें यहाँ पढ़ें

माना जा रहा है कि इस बार बालूमाथ, बसिया, झाबर, धातु, चेटाग, सेरेगड़ा, मुरपा, मारंगलोया, मासियातू, रजवार, बालू, भागेया आदि पंचायत क्षेत्रों में मुखिया और पंचायत समिति के उम्मीदवारों के बीच बेहद रोमांचक मुकाबला होने वाला है। उक्त पंचायत क्षेत्रों में इन पदों के लिए बहुत कम मतों से जीत-हार का निर्णय होगा।