Breaking :
||लातेहार: बूढ़ा पहाड़ इलाके में नक्सलियों द्वारा छिपाये गये अत्याधुनिक हथियार व अन्य सामान बरामद||रांची हिंसा मामले में डीसी ने 11 आरोपियों पर मुकदमा चलाने की मांगी अनुमति||धनबाद आशीर्वाद टावर फायर मामले में हाई कोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, सरकार से पूछा- अबतक क्या की गयी कार्रवाई||चाईबासा: IED ब्लास्ट में एक बार फिर तीन जवान घायल, एयरलिफ्ट कर लाया गया रांची||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में घायल युवक की इलाज के दौरान मौत, 17 फरवरी को होनी थी शादी||तैयारी में जुटे छात्र ध्यान दें: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने एक दर्जन प्रतियोगी परीक्षाओं के विज्ञापन किये रद्द||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन

बरवाडीह के छेंछा में जल मीनार खराब, पेयजल संकट गहराया

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : बरवाडीह प्रखंड के छेंछा पंचायत अंतर्गत धोबी मोहल्ले का जल मीनार पिछले कई दिनों से खराब पड़ा है। जिस कारण उस जल मीनार पर आश्रित लगभग 40 घर के सामने पीने के पानी समेत अन्य कार्यों को लेकर जल संकट छा गया है।

खराब जल मीनार बनाने को लेकर ग्रामीणों के द्वारा अपने स्तर से पंचायत प्रतिनिधियों को भी अवगत कराया जा चुका पर अब तक इस पर कोई सार्थक कदम नहीं उठाया गया है। जिस कारण ग्रामीणों को इधर उधर से पानी की व्यवस्था कर काम चलाना पड़ रहा है।

दूसरी ओर विभाग के द्वारा खराब चापाकल और जल मीनार को ठीक कराने का अभियान धरातल पर उतरता नहीं देखा जा रहा है। जो प्रचंड गर्मी के दौरान लोगों के लिए सबसे बड़ी परेशानी का कारण है।

उधर ग्रामीणों के द्वारा भी बुधवार को जल मीनार खराब होने की शिकायत प्रखंड विकास पदाधिकारी राकेश सहाय को दूरभाष के माध्यम से किया गया।

प्रखंड विकास अधिकारी के द्वारा मामले पर संज्ञान लेते हुए संबंधित विभाग को जल्द से जल्द जल मीनार को दुरुस्त कराने का निर्देश दिया गया है। जिससे ग्रामीणों के अंदर जल मीनार के ठीक होने और जल संकट के दूर होने की आस जगी है ।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें