Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

Balumath News: स्थानीय वाहनों को कोल साइडिंग से बाहर किए जाने के विरोध में वाहन मालिकों ने किया परिचालन बंद

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : सीसीएल के मगध संघमित्रा एरिया द्वारा संचालित बालूमाथ प्रखंड क्षेत्र स्थित चमातू कोलियरी प्रबंधन द्वारा स्थानीय हाइवा वाहनों को बाहर किए जाने और बाहरी वाहनों को प्राथमिकता दिए जाने के विरोध में आज सोमवार को सैकड़ों हाईवा वाहन मालिकों ने थाना क्षेत्र स्थित फुलबसिया रेलवे कोयला साइडिंग के पास हाईवा वाहन को सड़क किनारे खड़ा कर परिचालन ठप करा दिया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जिस कारण चमातु कोलियरी से ट्रक और हाईवा वाहनों का 8 घंटे तक परिचालन ठप हो गया। जिससे सड़क किनारे वाहनों की लंबी कतारें लग गयीं।

स्थानीय हाईवा वाहन मालिकों का आरोप है कि कोलियरी प्रबंधन अपनी मनमानी के तहत स्थानीय वाहनों को हटाने के लिए कई तरीके अपना रहे है। जो यहां के वाहन मालिकों के लिए परेशानी और बेरोजगारी का सबब साबित होगा। इसी को लेकर आज वाहन मालिकों ने कोयला ढुलाई का परिचालन ठप करा दिया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

वही जाम की सूचना पर स्थानीय पुलिस पिकेट प्रभारी प्रेम कुमार निषाद सदल बल जाम अथल पर पहुंचे और वाहन मालिकों को समझाने का प्रयास किया लेकिन वे नहीं माने। वही संवाद प्रेषण तक हाईवा वाहन मालिकों को कोलियरी प्रबंधन के बीच किसी तरह की वार्ता होने की सूचना नहीं है और वाहनों की लंबी कतार लगी हुई है। जाम की सूचना कोलियरी प्रबंधन और उनके वरीय अधिकारियों को दे दी गई है और फोन पर वार्ता किए जाने की बात कही जा रही है।