Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

लातेहार: बेतला में हिरण के पके व अधपके मांस के साथ तीन शिकारी गिरफ्तार

अख्तर/बेतला

लातेहार : पलामू टाइगर रिजर्व क्षेत्र के बेतला नेशनल पार्क से सटे छिपादोहर थाना क्षेत्र के गाड़ी गांव से वन विभाग की टीम ने हिरण के पका व अधपका मांस के साथ तीन शिकारियों को गिरफ्तार किया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

वनपाल उमेश दुबे ने बताया कि डीएफओ कुमार आशीष व वन क्षेत्र पदाधिकारी शंकर पासवान के निर्देश के आलोक में छापेमारी टीम गठित कर घनश्याम सिंह, पिता फागु सिंह उम्र 21 वर्ष, सीताराम भुइँया, पिता कोझा भुइँया, उम्र 28 वर्ष एवं राजेंद्र भुइँया, पिता जुल्फत भुइँया उम्र 32 वर्ष को गिरफ्तार किया गया है।

इनके पास से कड़ाही में पका व अधपका मांस के साथ दो टांगी बरामद किया गया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इस संबंध में बेतला रेंजर शंकर पासवान ने बताया कि वन एव वन्यजीव को नुकसान पहुंचाने वाले लोगों के प्रति वन विभाग सख्त कार्रवाई करेगी। किसी भी सूरत में इन लोगों को बख्शा नहीं जाएगा। छापेमारी लगातार जारी रहेगा।

छापेमारी टीम में संतोष कुमार सिंह पलामू किला, उमेश कुमार दुबे वनपाल बेतला, संदीप कुमार, संतोष कुमार, देवेंद्र कुमार देव, श्रीमती सुकेसी बडिंग, मनीता कश्यप, गुलशन कुमार, देवपाल भगत, निरंजन कुमार, नंद कुमार मेहता समेत कई लोग शामिल थे।