Breaking :
||स्पेनिश महिला पर्यटक से सामूहिक दुष्कर्म के तीन आरोपियों को भेजा गया जेल, पीड़ित दंपति का कोर्ट में बयान दर्ज||लातेहार: मनिका में संदेहास्पद स्थिति में पेड़ से लटका मिला युवक का शव||झारखंड में सात IAS अफसरों का टांस्फर-पोस्टिंग, रमेश घोलप बने चतरा डीसी||गढ़वा जाने के क्रम में लातेहार पहुंचे सीएम चम्पाई सोरेन, कहा- बैद्यनाथ राम को मंत्री बनाने पर फैसला जल्द||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार
Sunday, March 3, 2024
गारूलातेहार

सोलर जलमीनार खराब होने से ग्रामीणों के सामने पेयजल की समस्या, झामुमो अध्यक्ष ने की मरम्मत कराने की मांग

गोपी कुमार सिंह/गारू

लातेहार : ज़िले के गारू प्रखंड अंतर्गत रुद पंचायत के सीमाख़ास गांव में वनरक्षी आवास के समीप मुखिया मद की राशि से बनाया गया सोलर आधारित जलमीनार विगत एक माह से ख़राब पड़ा हुआ है। लेकिन इसके समाधान के लिए जनप्रतिनिधि कोई भी पहल करते हुए नजर नही आ रहे है। लिहाज़ा एक माह से अधिक समय बीत जाने के बावजूद अबतक सोलर आधारित जल मीनार को दुरुस्त नही कराया जा सका है। सोलर वाटर टावर फेल होने से करीब 25 घरों के सैकड़ों आदिवासी परिवारों को पीने के पानी, कपड़े धोने और अन्य कामों के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है।

दूषित पानी पीने को विवश हैं ग्रामीण

इस संबंध में गांव के ग्रामीण अनिल यादव, रौशन बाड़ा, स्वाति टोप्पो, अनिता देवी, सुमन देवी, ललिता देवी समेत अन्य ग्रामीणों ने बताया कि जबतक सोलर आधारित जलमीनार ठीक था। तब तक हमलोगों को पानी के लिए काफी सहूलियत हो रही थी। लेकिन इसके ख़राब हो जाने के कारण काफी दूर से पानी लाना पड़ता है। वह पानी भी मटमैला होता है। जिसे पीने से कई तरह की बीमारियां होने की आशंका बनी रहती है। लेकिन गांव की इस समस्या को लेकर मुखिया, प्रखंड प्रमुख एवं अन्य जनप्रतिनिधि गंभीर दिखाई नही दे रहे है। लिहाज़ा ग्रामीणों को पीने का पानी समेत दूसरे कार्यो के लिए दो-चार होना पड़ रहा है।

झामुमो प्रखंड अध्यक्ष ने ली ग्रामीणों की सुध

इधर, ग्रामीणों की इस समस्या का सुध लेने पहुचे झामुमो के गारू प्रखंड अध्यक्ष तौकीर उर्फ मंटू मिया ने कहा यह बहुत ही गंभीर मश्ला है। इसके खराब होने से लगभग 25 घरों के आदिवासी परिवार प्रभावित है। जिन्हें पीने के पानी के लिए काफी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। तौकीर मिया ने प्रखंड प्रशासन से मांग की है कि उक्त सोलर आधारित जलमीनार को दुरुस्त कर ग्रामीणों को पेयजल के लिए हो रही समस्या को दूर किया जाए।

झामुमो प्रखंड अध्यक्ष तौकीर उर्फ मंटू मिया

सरकार को कोई खतरा नही है, मुख्यमंत्री की विदाई असम्भव

वहीं झामुमो के प्रखंड अध्यक्ष तौकीर उर्फ मंटू मिया ने सरकार के ऊपर मंडरा रहे खतरे के सवाल पर कहा सरकार को कोई खतरा नही है। मुख्यमंत्री का विदाई असम्भव है। भाजपाई मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की लोकप्रियता से घबरा गये है। इसलिए सरकार को अस्थिर करने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अजमा रहे है। लेकिन मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन झारखंड वासियों की शान है। झामुमो पार्टी के जमीनी कार्यकर्ता विपक्ष की हर चाल का सामना करने के लिए चट्टान की तरह खड़े है। भाजपा केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर सरकार को अस्थिर करना चाहती है, जो सम्भव नही है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें