Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

हेरहंज: पुराने चहारदीवारी को दिया जा रहा है नये चहारदीवारी का रूप

प्रदीप यादव/हेरहंज

लातेहार : हेरहंज प्रखंड क्षेत्र के चिरु पंचायत के बिजरा ग्राम में पुराने कब्रिस्तान की पुरानी चहारदीवारी को नये चहारदीवारी का रूप दिया जा रहा है। कल्याण विभाग से 23,15,700 लाख रुपये की लागत से चहारदीवारी का निर्माण कराया जा रहा है।

बता दें कि झारखण्ड सरकार द्वारा सरना स्थल, कब्रिस्तान, देवी मंडप स्थल आदि स्थानों पर जहां चहारदीवारी नहीं है, उन स्थानों के लिए नये चहारदीवारी का निर्माण व जहां पूर्व में चहारदीवारी है, वहां जीर्णोद्धार की स्वीकृति दी गई है।

जबकि बिजरा ग्राम के ग्रामीणों का कहना है कि पुराने कब्रिस्तान में पहले ही चहारदीवारी का निर्माण कराया गया है। इसके बावजूद जीर्णोद्धार के स्थान पर नये चहारदीवारी का निर्माण कराया जा रहा है।

झारखंड सरकार के संचिका संख्या-05/ कब्रिस्तान घेराबंदी -01/2021-172 सूची में इस योजना का नाम घेराबंदी के नाम से दर्ज है।

स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया है कि बिचौलियों व विभाग की मिली भगत से पैसे की बंदरबांट करने के लिए इस योजना को स्वीकृत कराया गया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *