Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Monday, April 15, 2024
बालूमाथलातेहार

गणेशपुर में एक साथ उठी पति-पत्नी की अर्थी, चीख-पुकार ने किया माहौल गमगीन

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : बालूमाथ थाना क्षेत्र के गणेशपुर ग्राम में एक साथ पति पत्नी की अर्थी उठने से गांव का माहौल गमगीन हो गया।

मालूम हो कि बालूमाथ चतरा मार्ग पर थाना क्षेत्र के गोनिया ग्राम के पास ट्रक और स्कूटी की सीधी टक्कर में थाना क्षेत्र के गणेशपुर ग्राम निवासी दशरथ सिंह एवं उनकी पत्नी शकुंतला देवी की दर्दनाक मौत हो गई थी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस दुर्घटना में दशरथ सिंह की पत्नी शकुंतला देवी गंभीर रूप से घायल हो गई थी। लेकिन उन्हें बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र द्वारा प्राथमिक उपचार के पश्चात बेहतर इलाज के लिए रांची रिम्स रेफर कर दिया गया था। जहां इलाज के दौरान मौत हो गई थी। जिस कारण गणेशपुर ग्राम में पति पत्नी की अर्थी एक साथ उठी। इस दौरान चीख-पुकार से पूरा गांव गमगीन हो गया।

दशरथ सिंह की चार पुत्रियां हैं। जिसमें 2 पुत्रियो के विवाह की बातचीत चल रही थी। इसी बीच यह हादसा हो गया। माता-पिता के आकस्मिक निधन हो जाने के बाद उनके पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। वे रह रह कर बेसुध हो जा रही है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इधर इस घटना की सूचना पाकर बालूमाथ पूर्वी जिला परिषद सदस्य प्रियंका कुमारी और भाजपा मंडल अध्यक्ष लक्ष्मण कुशवाहा मृतक परिवार के घर पहुंचे और परिजनों को ढाढ़स बंधते हुए संयम से काम लेने की अपील की। पति-पत्नी की अंतिम यात्रा में सैकड़ों महिला-पुरुष मुख्य रूप से मौजूद रहे।