Breaking :
||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद

जंगली हाथियों का आतंक फिर शुरू, बालूमाथ में 6 घरों को किया ध्वस्त, अनाज किए चट, ग्रामीणों में दहशत

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : बालूमाथ थाना क्षेत्र में एक बार फिर जंगली हाथियों के आतंक शुरू हो गया है। इसके तहत बीते 2 दिनों के अंदर जंगली हाथियों ने बालूमाथ थाना क्षेत्र के अलग-अलग ग्रामीण क्षेत्रों में 6 घरों को नुकसान पहुंचाते हुए क्षतिग्रस्त कर दिया।

जानकारी के अनुसार जंगली हाथियों ने मंगलवार की देर रात चमातू ग्राम अंतर्गत सूईया टोला में एक ग्रामीण का घर, चेतर ग्राम के समासार टोला में दो ग्रामीण का घर, चेटुआग ग्राम के करमटार टोला में एक ग्रामीण का घर जबकि बुधवार की देर रात बालूमाथ प्रखंड मुख्यालय से सटे बसिया ग्राम के टोंगरी टोला में बुधराम उरांव एवं रामेश्वर उरांव के घर को क्षति पहुंचाई है।

इस दौरान जंगली हाथियों ने घर में रखे धान, मक्का, चावल, खेतों में लगे फसल व महुआ को चट कर गए। जंगली हाथियों के आतंक को देखते हुए ग्रामीण किसी तरह घर से भाग कर अपनी जान बचाने में सफल रहे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

मिली जानकारी के अनुसार जंगली हाथियों की संख्या 3 है जो दो भागों में बंट कर क्षेत्र में आतंक मचाए हुए हैं। इसे लेकर बालूमाथ थाना क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में दहशत का माहौल देखा जा रहा है और शाम होते ही सशंकित नजर आ रहे हैं।

इधर ग्रामीणों ने जंगली हाथियों के आतंक को देखते हुए वन विभाग के अधिकारियों से इस क्षेत्र से जंगली हाथियों को भगाने की मांग की है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें