Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार में टाना भगतों का आंदोलन चौथे दिन भी जारी, रेलवे ट्रैक जाम करने की चेतावनी

टाना भगत आंदोलन लातेहार

लातेहार : टाना भगतों ने यह चेतावनी दी है कि अगर झारखंड के 14 जिलों में पंचायत चुनाव की प्रक्रिया को नहीं रोका गया और चुनाव रद्द नहीं किया गया तो रेल सेवाएं पूरी तरह से ठप कर दी जाएंगी।

इसे भी पढ़ें :- खून के रिश्ते कलंकित : सगे भाई ने दो बहनों को बनाया हवस का शिकार, मां को भी नहीं छोड़ा

रेल से लेकर सड़क मार्ग भी करेंगे जाम

शुक्रवार को भी टाना भगत अपनी मांगों को लेकर अड़े हुए हैं। टाना भगत संघ के जिलाध्यक्ष बहादुर टाना भगत का कहना है कि जब तक उनकी मांगें नहीं मानी जाती तब तक आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने यह आरोप लगाया है कि सरकार पांचवीं अनुसूची का उल्लंघन कर जबरन पंचायत चुनाव कराने की कोशिश कर रही है। उनका कहना है कि पांचवीं अनुसूची के अनुसार लातेहार जिला अधिसूचित क्षेत्र है, जहां शासन स्थानीय लोगों द्वारा चलाई जानी चाहिए। यह आंदोलन राज्यपाल या पंचायती राज्य सचिव के आने के बाद ही समाप्त की जाएगी। अगर ऐसा नहीं हुआ तो टाना भगत रेलवे ट्रैक तक जाने वाले रास्ते को जाम कर देंगे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

इन जिलों में पंचायत चुनाव रद्द करने की मांग

टाना भगत संघ इन 14 जिलों में पंचायत चुनाव रद्द करवाना चाहते हैं। जिसमे लातेहार , रांची, लोहरदगा, गुमला, सिमडेगा, पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां, साहेबगंज, दुमका, पाकुड़, जामताड़ा, पलामू, गढ़वा जिले शामिल हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

टाना भगत आंदोलन लातेहार