Breaking :
||लातेहार: लापरवाह वाहन चालक हो जायें सावधान! कल से पुलिस चलायेगी जिलेभर में सघन वाहन चेकिंग अभियान||झारखंड की नाबालिग लड़की के साथ अमानवीय व्यवहार करने वालों के खिलाफ मुख्यमंत्री ने दिये सख्त कार्रवाई के आदेश||लातेहार: बालूमाथ में ट्यूशन पढ़ाकर घर लौट रहे शिक्षक की सड़क दुर्घटना में मौत||हेमंत सरकार ने खिलाड़ियों के सर्वांगीण विकास को लेकर की जोहार खिलाड़ी स्पोर्ट्स इंटीग्रेटेड पोर्टल की शुरुआत, खिलाड़ियों की समस्याओं के निराकरण में होगा सहायक||रामगढ़, चतरा व लातेहार में कोयला कारोबारियों पर जानलेवा हमला करने वाले TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, एक लातेहार का||अब राज्य के सरकारी शिक्षकों को ‘लीव मैनेजमेंट मॉड्यूल’ के माध्यम से ही मिलेगी छुट्टी, अन्य माध्यमों से दिये गये आवेदन होंगे रद्द||लातेहार: बालूमाथ में हुई विवाहिता हत्याकांड का खुलासा, चार अभियुक्तों ने मिलकर की थी बेरहमी से हत्या||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान

लेखा विभाग में ऑडिटर जनरल पद के लिए गढ़वाटांड़ के दिवाकर का चयन, परिवार में खुशी का माहौल

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : बरवाडीह प्रखंड क्षेत्र में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है और यह एक बार फिर साबित हुआ है। प्रखंड मुख्यालय अंतर्गत गढ़वाटांड़ निवासी पूर्व रेल चालक मुंद्रिका राम के छोटे पुत्र दिवाकर कुमार का लेखा विभाग में ऑडिटर जनरल पद पर चयन हुआ है।

दिवाकर ने सीएजी (भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा विभाग) के द्वारा आयोजित प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता प्राप्त की है। जहाँ ऑल इंडिया में 64 वां स्थान प्राप्त हुआ है।

दिवाकर ने अपनी सफलता के बारे में बताया कि वह प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी से पहले इंजीनियरिंग कर रहे थे, लेकिन एक बार फिर उन्होंने प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी और इस परीक्षा के दौरान उन्हें दोस्तों, माता-पिता, बहनोई, पूरे परिवार का भरपूर समर्थन मिला और उनके आशीर्वाद और मार्गदर्शन के कारण ही आज उन्होंने यह सफलता हासिल की है।

इसे भी पढ़ें :- जिलिंगा में श्रीराम भक्तों को मुस्लिम समुदाय के लोगों ने शरबत और ठंडा पिलाकर किया स्वागत

दिवाकर अपने परिवार में सबसे छोटे होने के साथ-साथ अपने कुशल सामाजिक व्यवहार से पहले ही लोगों के बीच अपनी पहचान स्थापित कर चुके हैं। उसी सफलता के साथ लोग अब उनके अंदर छिपी क्षमताओं की तारीफ भी कर रहे हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

दिवाकर ने अपनी सफलता के लिए मां अनिला देवी, पिता मुंद्रिका राम, भाई अनूप कुमार, राजीव कुमार, धनबाद रेलवे मंडल की भाभी श्वेता आनंद, मित्र जयप्रकाश साहू, राजकमल, गौरव गुप्ता, कुणाल कुमार, नीतीश कुमार, खुर्शीद खान, संजय मेहरा, चंद्र प्रकाश यादव, विकास कुमार, जितेंद्र कुमार, अंकित गोलू और माता वैष्णो देवी और दुर्जागिन मां के प्रति आभार व्यक्त किया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें