Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहार

खुलासा: TSPC ने की थी दिलशेर की हत्या, हत्याकांड में शामिल दो उग्रवादी हथियार के साथ गिरफ्तार

राजीव मिश्रा/लातेहारदिलशेर हत्याकांड खुलासा

लातेहार : जेएमएम नेता दिलशेर खान हत्याकांड का पुलिस ने बुधवार को खुलासा कर दिया है। इस हत्याकांड में शामिल दो अपराधियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। हत्या में प्रयुक्त पिस्टल भी बरामद किया गया है। बरामद पिस्टल विदेश की बनी है।

एसपी अंजनी अंजन ने प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि गिरफ्तार अपराधियों के संबंध टीएसपीसी उग्रवादियों से हैं। एसपी ने कहा कि अपराधियों ने लेवी की मांग करने और इलाके में दहशत फैलाने के मकसद से इस हत्याकांड को अंजाम दिया था। हत्या के बाद इसकी जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया था। पुलिस ने जांच के दौरान दो अपराधियों को गिरफ्तार किया है।

इसे भी पढ़ें :- परीक्षा केंद्र पर दस मिनट देर से पहुंचने पर शिक्षिका ने छात्रा को भगाया, घर पहुंचकर काट ली हाथ की नस

गिरफ्तार अपराधियों में सनोज उरांव (बालूमाथ) तथा गुड्डन गंझू (हेमपुर, बालूमाथ) शामिल है। दोनों के तार टीएसपीसी उग्रवादी संगठन से जुड़े हैं।

एसपी ने बताया कि इस हत्याकांड में शामिल अन्य अपराधियों की पहचान भी कर ली गई है। जल्द ही सभी की गिरफ्तारी होगी। उन्होंने कहा कि मामले की छानबीन अभी जारी है। इसमें कुछ और बड़ा खुलासा भी होने की संभावना है।

इसे भी पढ़ें :- प्रश्न पत्र लीक होने के बाद जैक ने रद्द की गणित और जीवविज्ञान की परीक्षा

कई सवालों को दे दिया जन्म

जेएमएम नेता दिलशेर खान हत्याकांड का खुलासा तो पुलिस के द्वारा कर दिया गया। परंतु हत्याकांड में कई सवालों को जन्म दिया है। पुलिस का दावा है कि लेवी तथा दहशत फैलाने के लिए उग्रवादियों ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया है। परंतु सबसे बड़ा सवाल यह है कि छोटी सी घटना को अंजाम देने के बाद भी उग्रवादी घटना की जिम्मेदारी लेते हैं। यदि लेवी के लिए दहशत फैलाना ही उग्रवादियों का मकसद था तो फिर घटना की जिम्मेदारी क्यों नहीं ली?

इसे भी पढ़ें :- मनिका : टांगी से मार कर हुई थी हत्या, 6 महीने बाद हुआ खुलासा

छापामारी दल

बालूमाथ एसडीपीओ अजीत कुमार, इंस्पेक्टर शशि रंजन कुमार, थाना प्रभारी प्रशांत प्रसाद, हेरहंज थाना प्रभारी मुकेश चौधरी, बालूमाथ पुलिस अवर निरीक्षक धर्मेंद्र कुमार महतो, बालूमाथ पुलिस अवर निरीक्षक नीतीश कुमार, बालूमाथ पुलिस अवर निरीक्षक कुबेर साव, हेरहंज थाना के पुलिस अवर निरीक्षक अभिषेक कुमार, बालूमाथ थाना के पुलिस अवर निरीक्षक धीरज कुमार, बालूमाथ थाना के अवर निरीक्षक कुंदन कुमार, बालूमाथ थाना रिजर्व गार्ड, सैट 208 सशस्त्र बल व मकईयाटाड पिकेट के जवान शामिल थे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

मालूम हो कि लातेहार विधायक बैद्यनाथ राम के बालूमाथ प्रखंड प्रतिनिधि और झामुमो नेता दिलशेर खान की अज्ञात अपराधियों द्वारा 24 अप्रैल को बालूमाथ थाना क्षेत्र के कुसुमाही साइडिंग में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वहीं हत्या में शामिल अपराधियों के नहीं पकड़े जाने पर भाजपा ने आक्रामक रुख अख्तियार किया था और 13 मई को बालूमाथ थाना के सामने प्रदर्शन करने की अनुमति मांगी थी।

दिलशेर हत्याकांड खुलासा