Breaking :
||लातेहार में पांच लाख का इनामी भाकपा माओवादी सब जोनल कमांडर गिरफ्तार, हार्डकोर नक्सली छोटू खरवार के दस्ते का करता था नेतृत्व||मुख्य सचिव पद से हटाये गये सुखदेव सिंह, एल खियांग्ते को मिली जिम्मेदारी||ED के बुलावे पर नहीं आये साहिबगंज एसपी नौशाद आलम||पलामू: नाबालिक से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार, पूरे परिवार को गोली मारने की दी थी धमकी||नक्सलियों के 15 लाख रुपये नॉन बैंकिंग कंपनियों में जमा कराने के आरोपी को हाईकोर्ट से मिली जमानत, बालूमाथ थाने में दर्ज हुआ था मामला||The News Sense की खबर का असर, बालूमाथ में ग्रामीण सड़क से नहीं हुई कोयले की ढुलाई, ग्रामीणों ने ली राहत की सांस, दिया साधुवाद||झारखंड में भी दिखने लगा साइक्लोन मिचॉन्ग का असर, राज्य के इन हिस्सों में हो सकती है बारिश, इस दिन तक छाये रहेंगे बादल||सरकार ने बरवाडीह के तत्कालीन बीडीओ व मधुपुर के तत्कालीन सीओ को दी निंदन की सजा||पुलिस को चकमा देकर रिम्स से फरार कैदी शाकिब पत्नी के साथ गिरफ्तार||लातेहार: नियमों की अनदेखी कर बालूमाथ में ग्रामीण सड़क से हो रही कोयले की ढुलाई, सैकड़ों बच्चे स्कूल जाने से वंचित
Wednesday, December 6, 2023
बरवाडीहलातेहार

विधायक रामचंद्र सिंह से मिला मधेसिया हलवाई समाज का प्रतिनिधि मंडल, आरक्षण का लाभ दिलाने की मांग

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : अखिल भारतीय मधेसिया हलवाई समाज के प्रतिनिधि मंडल ने शनिवार को मनिका विधानसभा क्षेत्र के विधायक रामचंद्र सिंह से मंगरा स्थित आवास पर मुलाकात कर आरक्षण का लाभ दिलाने संबंधी एक मांग पत्र सौंपा।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे हैं प्रदेश महामंत्री नंदकिशोर प्रसाद व जिला अध्यक्ष आनंद प्रसाद नंदू ने कहा कि लातेहार जिले के साथ गुमला, लोहरदगा, खूंटी समेत अन्य जिलों में ओबीसी 1 में हलवाई समाज को शामिल किये जाने के बावजूद आरक्षण का लाभ नहीं दिया जा रहा है। जिससे समाज के लोगों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है।

मौके पर विधायक रामचंद्र सिंह ने मधेसिया हलवाई समाज को आश्वस्त किया कि राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात कर जल्द ही इस मुद्दे को रखा जाएगा। ताकि मधेसिया हलवाई समाज को उनका हक अधिकार मिल सके।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

मौके पर अजीत प्रसाद, संतोष प्रसाद, रामनाथ प्रसाद, संतोष कुमार, अशोक प्रसाद समेत मधेसिया हलवाई समाज के कई लोग मौजूद थे।