Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

सड़क दुर्घटना में एक व्यक्ति गभीर रूप से घायल, जिप सदस्य ने अपनी गाड़ी से पहुंचाया अस्पताल

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : बरवाडीह कुटमू मार्ग में डोरामी बस्ती के पास देर शाम मोटरसाइकिल दुर्घटना में एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया। वह गंभीर हालत में घायल होने के बाद बेहोशी की हालत में सड़क पर पड़ा था।

इसी दौरान जिला मुख्यालय से बैठक से लौट रहे पश्चिमी क्षेत्र के जिप सदस्य संतोषी शेखर ने घायल व्यक्ति को देख अपनी कार को रोक लिया। संतोषी शेखर के साथ पूर्वी क्षेत्र के जीप सदस्य कन्हाई सिंह और युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव प्रिंस गुप्ता, जो संतोषी शेखर के साथ वाहन में मौजूद थे, बिना देर किए घायल व्यक्ति को दे कार में बिठाकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बरवाडीह लाकर भर्ती कराया।

घायल व्यक्ति का इलाज जिप सदस्य संतोषी शेखर, कन्हाई सिंह और प्रिंस गुप्ता ने उनकी मौजूदगी में शुरू किया। प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. आशीष रंजन और ड्रेसर बबलू सिन्हा ने घायलों का प्राथमिक उपचार किया।

वहीं, जब तक पुलिस उपनिरीक्षक राहुल मेहता द्वारा घायल व्यक्ति के वाहन को थाने लाया गया और घायल व्यक्ति की पहचान करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी। घायल व्यक्ति की पहचान पलामू के चियांकी एयरपोर्ट के मनोज राम के रूप में हुई है। फिलहाल प्राथमिक उपचार के बाद घायल व्यक्ति की स्थिति में सुधार हो रहा है और वह पहले से बेहतर है।