Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

लातेहार: अपनी 5 सूत्री मांग को लेकर सांकेतिक हड़ताल पर गए नगर पंचायत कर्मी

लातेहार : नगर पंचायत के कर्मी अपनी पांच सूत्री मांग को लेकर आज से तीन दिवसीय सांकेतिक हड़ताल पर चले गए हैं। सोमवार को कार्यकर्ताओं ने नगर पंचायत परिसर में धरना दिया और मांग की कि सरकार उनकी मांगों पर अविलंब सुनवाई करे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

हड़ताल का नेतृत्व कर रहे नगर पंचायत के सहायक संतोष कुमार सिंह और इंजीनियर संदीप कुमार ने कहा कि हेमंत सोरेन की सरकार ने पहले ही आश्वासन दिया था कि 10 साल से अधिक समय से अनुबंध पर काम कर रहे कर्मचारियों को नियमित किया जाएगा। लेकिन जब हेमंत सोरेन की फिर से सरकार बनी तो सरकार अपने वादे पर खरी नहीं उतर रही है।

कर्मियों ने बताया कि नगर निकाय में कार्यरत कर्मियों की मुख्य रूप से पांच मांगें हैं। जिसमें 10 वर्ष से अधिक कार्य करने वाले कर्मियों की सेवा को नियमित करना, सभी कर्मियों को 20 लाख की बीमा राशि का लाभ देना, एनजीओ के स्थान पर नगर निकाय में कार्यरत सफाई कर्मियों से शहर की सफाई कराना, पुराने कर्मियों की सेवा नियमित होने तक नई बहाली पर रोक लगाना आदि मांग शामिल है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इधर, सांसद प्रतिनिधि विवेक चंद्रवंशी और वार्ड पार्षद वीरेंद्र पासवान ने भी नगर पंचायत कर्मियों की सांकेतिक हड़ताल का समर्थन किया। सांसद प्रतिनिधि ने कहा कि अगर सरकार नगर निकाय कार्यकर्ताओं की मांग नहीं मानती है तो हम भी उनके साथ आंदोलन में सड़क पर उतरेंगे।

मौके पर राज्य उपाध्यक्ष सह प्रमंडलीय महामंत्री जिला अध्यक्ष संतोष सिंह, जिला महामंत्री सह प्रमंडलीय उपाध्यक्ष संदीप कुमार गुप्ता, रमेश राम, राजू राम, पार्वती देवी, ललिता देवी, सुगनी देवी, कुवारी देवी, सीता कुंवर, मनलाल उरांव, राजेश्वर राम, महादेव राम, ललन राम, महेश राम, कृष्ण भगत, विनेश उरांव, बबलू राम, सुदामा कुमार सिंह, देव सहाय उरांव, राहुल कुमार, सत्येंद्र कुमार, रविंद्र उरांव, शनिचरा उरांव, छोटेलाल राम, मंजय उरांव, संतोष कुमार सिंह, राजू प्रसाद, संजीव कुमार, संदीप बेदिया, रणधीर कपूर, राजेंद्र राव, हलचल राम, लाल सहाय उरांव, पन्तु उरांव समेत कुल 64 कर्मी उपस्थित थे।