Breaking :
||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान||लातेहार: बालूमाथ में फिर एक विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, पुलिस जांच में जुटी||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, मायके वालों ने लगाया हत्या का आरोप||लातेहार: मनिका में सड़क निर्माण स्थल पर उग्रवादियों का हमला, JCB मशीन में लगायी आग||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी

डीसी के जनता दरबार में राशन वितरण में गड़बड़ी की शिकायत के बाद एमओ ने की जांच

गोपी कुमार सिंह/गारू

लातेहार : ज़िले के गारू प्रखंड क्षेत्र के कार्रवाई गांव में संचालित जनवितरण प्रणाली के दुकानदार शंभु राम पर राशन वितरण में गड़बड़ी से संबंधित लिखित शिकायत कार्डधारकों ने विगत दिनों पूर्व उपायुक्त के जनता दरबार के माध्यम से थी। जिसके बाद पूरे मामले का संज्ञान लेते हुए सीओ सह एमओ शंभु राम ने दलदलिया गांव पहुँच पूरे मामले की जांच की।

आपको बता दे कि उपायुक्त के जनता दरबार मे दिए लिखित शिकायत में दलदलिया गांव के ही कार्डधारियों का नाम शामिल था। मामले की जांच करने पहुचे एमओ शंभु राम ने शिकायतकर्ताओं से सिलसिले वार तरीके से पूछताछ की। जांच में यह पाया गया कि सरकार के द्वारा तय राशन ही कार्डधारियों को डीलर के द्वारा वितरण किया जा रहा है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस संबंध में एमओ शंभु राम ने बताया कि पूरे मामले की बारीकी से जांच की गयी है। लेकिन राशन वितरण में अनियमितता को लेकर किसी भी कार्डधारियों के द्वारा शिकायत नही मिली है। उन्होंने आगे बताया कि गांव के ही एक शख्स ने कई ग्रामीणों से गांव में सड़क निर्माण करवाने के नाम पर हस्ताक्षर करवाकर उपायुक्त के जनता दरबार मे सौप दिया था। खुद इस बात को आवेदक ने कबूल किया है।

उन्होंने कहा इस मामले में राशन वितरण से संबंधित गड़बड़ी का कोई मामला सामने नही आया है। अगर गरीबी के हक पर कोई भी जन वितरण प्रणाली का संचालक सेंधमारी करता है तो उसे किसी भी सूरत में बख्शा नही जाएगा। एमओ के जांच के दौरान डीलर शंभु राम समेत दर्जनों की संख्या में कार्डधारी मौजूद थे।