Breaking :
||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली

मनिका: करंट लगने से घायल बच्चे की इलाज के दौरान मौत, परिजनों में मचा कोहराम

ग्रामीणों में बिजली विभाग के प्रति रोष

लातेहार: मनिका थाना क्षेत्र के धोबी मोहल्ला में गुरुवार को 33 केवी की चपेट में आने से आयुष कुमार (8 वर्ष) बुरी तरह से झूलस गया था। जिसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनिका में प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए रिम्स रेफर कर दिया गया था। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। बच्चे के मौत की खबर से परिजनों में कोहराम मच गया।

वही ग्रामीणों ने बिजली विभाग के प्रति काफी रोष व्यक्त किया है। ग्रामीणों का कहना है कि विभाग द्वारा 33 केवी का तार घर के ऊपर छत के काफी नजदीक से गुज़री है। इसके बावजूद हाइट नहीं किया जा रहा है। यदि विभाग के द्वारा तार का हाइट बढ़ा दिया जाता तो इस तरह की घटना नहीं होती।

आपको बता दें कि आयुष अपने घर की छत पर खेल रहा था तभी 33 केवी की तार जो घर के ऊपर से गुजरी थी। जिसकी चपेट में आकर वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना की सूचना पर पहुंचे आस पास के लोगों ने बच्चे को अस्पताल पहुंचाया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें