Breaking :
||झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर वोटिंग कल, 82 लाख मतदाता करेंगे 93 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला||पलामू: तत्कालीन एसपी के फर्जी हस्ताक्षर से बने 12 चरित्र प्रमाण पत्र, बड़ा गिरोह सक्रिय||ED की टीम फिर पहुंची आलमगीर आलम के पीएस संजीव लाल के नौकर जहांगीर के घर||झारखंड: ज्वैलर्स शोरूम से दो लाख रुपये नकद समेत 50 लाख के आभूषण की लूट||निशिकांत दुबे के खिलाफ चुनाव आयोग से शिकायत||लातेहार: चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने वाले 9 कर्मियों पर प्राथमिकी दर्ज||बंगाल की खाड़ी में बन रहे लो प्रेशर का झारखंड में असर, ऑरेंज अलर्ट जारी, झमाझम बारिश से लोगों को गर्मी से मिली राहत||जेठानी ने देवरानी पर लगाये गंभीर आरोप, कहा- कल्पना सोरेन के इशारे पर मेरी दोनों बेटियों को मारने की थी कोशिश||गढ़वा: JJMP जोनल कमांडर के नाम पर पूर्व विधायक सत्येंद्र नाथ तिवारी को धमकी||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में फिर मारे गये सात नक्सली
Saturday, May 25, 2024
लातेहार

मनिका विधायक ने किया ऐतिहासिक पलामू किला मेले का उद्घाटन, उमड़ी लोगों की भीड़

लातेहार : छठ पर्व के पारण के अगले दिन चेरो वंश के सबसे प्रतापी राजा की स्मृति में हर साल पलामू किले के पास औरंगा नदी के तट पर होने वाले ऐतिहासिक तीन दिवसीय पलामू किला जात्रा मेला का मनिका विधायक रामचंद्र सिंह ने उद्घाटन किया।

इस दौरान बरवाडीह एसडीपीओ दिलू लोहरा, सर्किल इंस्पेक्टर चंद्रशेखर चौधरी, सतबरवा थाना प्रभारी ऋषिकेश राय, बरवाडीह एसआई रंजीत राम, बीस सूत्री अध्यक्ष नसीम अंसारी, मेदिनी मंच अध्यक्ष निर्मल सिंह, विधायक प्रतिनिधि प्रमोद यादव आदि अतिथि के रूप में मौजूद रहे। जबकि मेला समिति के संरक्षक अवधेश सिंह चेरो ने मंच संचालन किया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए मनिका विधायक ने कहा कि पलामू किले का जीर्णोद्धार किया जाएगा। जिसकी डीपीआर झारखंड सरकार को भेज दी गयी है। मेले का मंच भी जल्द ही बनाया जाएगा।

विधायक के अलावे कई लोगों ने अपने विचार साझा किए। राम लखन सिंह ने मेला समिति के मार्गदर्शन में पलामू वंश और मेले के इतिहास को साझा किया। मेले के सफल आयोजन के लिए प्रशासनिक व्यवस्था कड़ी थी। मेला समिति के अध्यक्ष उमेश सिंह सहित मेला समिति के पदाधिकारी एवं स्वयंसेवी एवं कार्यकारी अध्यक्ष आशुतोष सिंह चेरो मेले के सफल संचालन में सक्रिय रहे।

इसे भी पढ़ें :- लातेहार: रातों-रात करोड़पति बना गरीब किसान का बेटा, 49 रुपये में बदल गयी किस्मत, मिलेंगे 1 करोड़

पलामू किला और मेला परिसर में हजारों की संख्या में ग्रामीण पर्यटक उमड़ पड़े। मेले में पलामू, गढ़वा, लातेहार और छत्तीसगढ़ के लोग हजारों की संख्या में पहुंचे। मेले में तरह-तरह की दुकानें भी लगाई गयीं, जिसमें खरीद-बिक्री के लिए ग्राहकों की भारी भीड़ उमड़ी।