Breaking :
||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद

मनिका विधायक ने किया ऐतिहासिक पलामू किला मेले का उद्घाटन, उमड़ी लोगों की भीड़

लातेहार : छठ पर्व के पारण के अगले दिन चेरो वंश के सबसे प्रतापी राजा की स्मृति में हर साल पलामू किले के पास औरंगा नदी के तट पर होने वाले ऐतिहासिक तीन दिवसीय पलामू किला जात्रा मेला का मनिका विधायक रामचंद्र सिंह ने उद्घाटन किया।

इस दौरान बरवाडीह एसडीपीओ दिलू लोहरा, सर्किल इंस्पेक्टर चंद्रशेखर चौधरी, सतबरवा थाना प्रभारी ऋषिकेश राय, बरवाडीह एसआई रंजीत राम, बीस सूत्री अध्यक्ष नसीम अंसारी, मेदिनी मंच अध्यक्ष निर्मल सिंह, विधायक प्रतिनिधि प्रमोद यादव आदि अतिथि के रूप में मौजूद रहे। जबकि मेला समिति के संरक्षक अवधेश सिंह चेरो ने मंच संचालन किया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस अवसर पर लोगों को संबोधित करते हुए मनिका विधायक ने कहा कि पलामू किले का जीर्णोद्धार किया जाएगा। जिसकी डीपीआर झारखंड सरकार को भेज दी गयी है। मेले का मंच भी जल्द ही बनाया जाएगा।

विधायक के अलावे कई लोगों ने अपने विचार साझा किए। राम लखन सिंह ने मेला समिति के मार्गदर्शन में पलामू वंश और मेले के इतिहास को साझा किया। मेले के सफल आयोजन के लिए प्रशासनिक व्यवस्था कड़ी थी। मेला समिति के अध्यक्ष उमेश सिंह सहित मेला समिति के पदाधिकारी एवं स्वयंसेवी एवं कार्यकारी अध्यक्ष आशुतोष सिंह चेरो मेले के सफल संचालन में सक्रिय रहे।

इसे भी पढ़ें :- लातेहार: रातों-रात करोड़पति बना गरीब किसान का बेटा, 49 रुपये में बदल गयी किस्मत, मिलेंगे 1 करोड़

पलामू किला और मेला परिसर में हजारों की संख्या में ग्रामीण पर्यटक उमड़ पड़े। मेले में पलामू, गढ़वा, लातेहार और छत्तीसगढ़ के लोग हजारों की संख्या में पहुंचे। मेले में तरह-तरह की दुकानें भी लगाई गयीं, जिसमें खरीद-बिक्री के लिए ग्राहकों की भारी भीड़ उमड़ी।