Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में एक बाइक सवार की मौत, दो अन्य घायल||अपहृत डॉक्टर सकुशल बरामद, डालटनगंज में किराये का मकान लेकर छिपा रखे थे अपहरणकर्ता, तीन गिरफ्तार||रांची में पचास हजार का इनामी माओवादी हथियार के साथ गिरफ्तार||गुमला में तेज रफ़्तार का कहर, सड़क हादसे में दो छात्रों की दर्दनाक मौत||रांची: TSPC के इनामी उग्रवादी ने पुलिस के सामने किया सरेंडर||विजय संकल्प महारैली में बोले पीएम मोदी, मोदी की गारंटी पर देश कर रहा भरोसा, अबकी बार 400 पार||पलामू: बेटी की शादी के लिए बैंक से निकाले पैसे, रुपयों से भरा बैग छीनकर लुटेरे हुए फरार||सिंदरी खाद कारखाना चालू कराने का लिया था संकल्प, मोदी की गारंटी हुई पूरी : नरेन्द्र मोदी||कैबिनेट की बैठक में 40 प्रस्तावों को मिली मंजूरी, राज्य कर्मियों की पेंशन योजना में संशोधन, अब पांच हजार रुपये मिलेगा पोशाक भत्ता||पलामू: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी को 20 साल सश्रम कारावास की सजा
Saturday, March 2, 2024
गारूलातेहार

PTR में फॉरेस्ट गार्ड पर लेपर्ड का हमला, इनक्लोजर के अंदर अब भी मौजूद, 100 वनकर्मी लेपर्ड को निकालने का कर रहे प्रयास

गोपी कुमार सिंह/गारू

लातेहार : पलामू टाइगर रिजर्व के बारेसाढ़ रेंज में एक वन कर्मी पर लेपर्ड ने हमला कर दिया है। इस हमले में वन कर्मी के हाथ में गंभीर चोट आई है। घायल वनकर्मी की पहचान बारेसाढ़ निवासी सूर्य नाथ यादव के रूप में हुई है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जानकारी के मुताबिक घायल वनकर्मी फॉरेस्ट गार्ड के रूप में इनक्लोज़र से नाईट शिफ्ट कर सुबह वापस घर लौट रहा था तभी लेपर्ड इनक्लोज़र के अंदर घुस आया और वनकर्मी पर जानलेवा हमला कर दिया। परिजनों की मदद से घायल वनकर्मी को गारू रेफरल अस्पताल लाया गया है। जहाँ चिकित्सकों की देखरेख में इलाज किया जा रहा है।

घायल के साथी वनकर्मियों ने बताया कि इलाज का खर्च देने का आश्वासन रेंजर वृंदा पांडेय ने दिया है। इधर घटना के बाद वन विभाग पर कई तरह के सवाल उठने लगे है। चुकी इनक्लोज़र में सांभर जैसे कई तरह के जंगली जानवर हैं। ऐसे में अगर लेपर्ड या कोई अन्य जंगली जानवर इनक्लोज़र में प्रवेश करते हैं तो उन जानवरों से इनक्लोज़र में रह रहे जानवरों को भी खतरा है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

बताया जा रहा है कि लेपर्ड अभी भी जोड़ा सखुवा सांभर इनक्लोजर घेराबंदी के अंदर मौजूद है। करीब 70 से 100 वनकर्मियों द्वारा निकालने का प्रयास किया जा रहा है। रेंजर वृंदा पाण्डेय, महुआडांड़ वनपाल अजय टोप्पो, परमजीत तिवारी मौके पर तैनात है। जानकारी के मुताबिक इनक्लोजर में किये गए घेराबंदी को काटने के लिए मशीन मंगवाया जा रहा है।