Breaking :
||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली

लातेहार: गरीब रथ ट्रेन से रांची जा रही महिला की अस्पताल ले जाते समय मौत, रेलवे फाटक बंद होने से समय पर नहीं मिल सकी चिकित्सा सुविधा

लातेहार : गरीब रथ ट्रेन से दिल्ली से रांची जा रही रीता देवी 52 वर्ष पति मदूरेंद्र प्रसाद श्रीवास्तव की मौत शुक्रवार को टोरी रेलवे स्टेशन से अस्पताल ले जाने के क्रम में हो गई। रेलवे फाटक बंद होने की वजह से उन्हें चिकित्सा सुविधा समय पर मुहैया नहीं कराया जा सका।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि गरीब रथ के कोच नंबर 16 बर्थ नंबर 71 में उक्त महिला अपनी बेटी के साथ रांची जा रही थी। इसी क्रम में अचानक उसकी तबीयत बिगड़ी। इसकी सूचना रेलवे अधिकारियों को दी गई। डिप्टीकंट्रोल बरकाकाना के द्वारा इसकी सूचना टोरी स्टेशन अधीक्षक अशोक कुमार को दी गई।

हालाकि पूर्व से ही तोरी रेलवे स्टेशन पर एंबुलेंस की व्यवस्था की गई थी। एंबुलेंस से उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चंदवा ले जाया जा रहा था, लेकिन फाटक बंद होने के कारण उन्हें कुछ देर वहां रुकना पड़ा। जब एम्बुलेंस अस्पताल पहुंची तो चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बताया जाता है कि वे अपनी बेटी की शादी में भाग लेने के लिए दिल्ली से धुर्वा रांची स्थित अपने घर जा रही थी। परिजनों की माने तो वे कुछ दिनों से बीमार चल रही थी।