Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

लातेहार: आधा दर्जन से अधिक लोगों का सोना व नगदी लेकर ठग फरार, मामला दर्ज

लातेहार : जिला मुख्यालय के अमवाटीकर मोहल्ले से एक शातिर ठग आधा दर्जन से अधिक लोगों को अपनी ठगी का शिकार बनाकर फरार हो गया। वह शातिर ठग रातो-रात अपने बच्चे व परिवार के साथ मोहल्ले के लोगों का लाखों रुपये का सोना और नकदी लेकर फरार हो गया।

इस संबंध में अमवाटीकर रजा मोहल्ला निवासी मोहम्मद अबरार उर्फ ​​राजू (पिता मोहम्मद कस्मुद्दीन रजा) ने लातेहार सदर थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

आवेदन में बताया है कि शेख असरफुल पिता शेख शमशुल हक, मलिक पारा, दक्षिण नवाबपुर, जिला हुगली, पश्चिम बंगाल का रहने वाला है। जो मेरे मकान में पत्नी व दो बच्चों के साथ लगभग 12 से 14 वर्षों से रहते आ रहा था। वह जेवर बनाने व बेचने का काम करता था। मोहल्ले में ही तबस्सुम प्रवीण (पति सगीर आलम) के मकान में उसकी दुकान थी।

आगे बताया है कि 12 अप्रैल 2022 की सुबह उसे मैसेज मिला तो पता चला कि शेख असरफुल रात में अपने बच्चे व परिवार के साथ घर का दरवाजा खुला छोड़कर भाग गया है। जब उसके मोबाइल नंबर 6207631948, 727765605, 6207321852, 9576098738 व 8797704492 पर संपर्क किया गया तो सभी नंबर बंद मिले।

बताया गया है कि वह पिछले 3 वर्षों से घर का किराया भी नहीं दिया था। उसके पास 1 लाख पचास हजार रुपये किराया बकाया था। जबकि पुराने जेवर के बदलने के लिए लगभग 150 ग्राम सोना एवं बच्चियों का जेवर बनाने के लिए 5 लाख रुपये नगद दिया था। वो भी साथ ले गया।

इधर घटना की खबर जैसे ही मोहल्ले में फैली, लोगों की भीड़ जमा हो गई. जिसमें कई लोगों ने बताया कि वे भी इस फ्रॉड का शिकार हुए हैं।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

ठगी के शिकार लोग

सुनील कुमार सोनी पिता कृष्णा प्रसाद सोनी 604 ग्राम सोना व 1 लाख 20 हजार नगद
विष्णु प्रसाद साहू पिता कैलाश प्रसाद से 5 लाख रुपये नगद
गुप्तेश्वर सोनी पिता राजेश प्रसाद 20 4 ग्राम सोना
तबस्सुम परवीन सगीर आलम 52 2 ग्राम सोना व 3 लाख रुपये नगद
मुस्तफा पिता मरहूम कमाल आलम 80 2 ग्राम सोना व 1 लाख 50 हजार रुपये नगद
मुस्तरी बीबी ऐनुल खान 30 ग्राम सोना व 1 लाख 50 हजार रुपये नगद
मो आरिफ पिता मरहूम इब्राहिम खान 60 ग्राम सोना व 3 लाख रुपये नगद
मनोरमा देवी रामचंद्र साव से 1 लाख रुपये नगद लेकर फरार हो गया है।

इधर, पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता ने बताया कि दिए गए आवेदन के आधार पर मामला दर्ज करते हुए छानबीन शुरू कर दी गयी है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

लातेहार ठग