Breaking :
||झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स का वार्षिक आम चुनाव संपन्न, ज्योति कुमारी को मिले सर्वाधिक 1845 वोट||संबलपुर-जम्मूतवी एक्सप्रेस में लूट: यात्रियों के फर्द बयान पर FIR दर्ज||रांची: महिला से ठगी के चार आरोपी गिरफ्तार, ठगे थे एक करोड़ 12 लाख रुपये||लातेहार और बरवाडीह रेलवे स्टेशन के बीच जम्मूतवी एक्सप्रेस में भीषण डकैती व मारपीट, फायरिंग में कई यात्री घायल, हंगामा||गढ़वा: डकैती के तीन आरोपी गिरफ्तार, तीन नाबालिगों को भेजा गया बाल सुधार गृह||मायके से ससुराल जाने के लिए निकली सतबरवा की महिला दूधमुंहे बच्चे के साथ लापता, खोजबीन करने का आग्रह||ED के समन के खिलाफ झारखंड हाई कोर्ट पहुंचे मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, सरकार को अस्थिर करने की साजिश रचने का लगाया आरोप||पलामू: डकैती की योजना बनाते पकड़े गये पांच लुटेरे, हथियार बरामद||क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में टॉप पर पहुंची भारतीय टीम||झारखंड में डॉक्टर से मारपीट करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद डॉक्टरों की राज्यव्यापी हड़ताल खत्म, ओपीडी सेवाएं बहाल
Monday, September 25, 2023
लातेहार

लातेहार: आधा दर्जन से अधिक लोगों का सोना व नगदी लेकर ठग फरार, मामला दर्ज

लातेहार : जिला मुख्यालय के अमवाटीकर मोहल्ले से एक शातिर ठग आधा दर्जन से अधिक लोगों को अपनी ठगी का शिकार बनाकर फरार हो गया। वह शातिर ठग रातो-रात अपने बच्चे व परिवार के साथ मोहल्ले के लोगों का लाखों रुपये का सोना और नकदी लेकर फरार हो गया।

इस संबंध में अमवाटीकर रजा मोहल्ला निवासी मोहम्मद अबरार उर्फ ​​राजू (पिता मोहम्मद कस्मुद्दीन रजा) ने लातेहार सदर थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

आवेदन में बताया है कि शेख असरफुल पिता शेख शमशुल हक, मलिक पारा, दक्षिण नवाबपुर, जिला हुगली, पश्चिम बंगाल का रहने वाला है। जो मेरे मकान में पत्नी व दो बच्चों के साथ लगभग 12 से 14 वर्षों से रहते आ रहा था। वह जेवर बनाने व बेचने का काम करता था। मोहल्ले में ही तबस्सुम प्रवीण (पति सगीर आलम) के मकान में उसकी दुकान थी।

आगे बताया है कि 12 अप्रैल 2022 की सुबह उसे मैसेज मिला तो पता चला कि शेख असरफुल रात में अपने बच्चे व परिवार के साथ घर का दरवाजा खुला छोड़कर भाग गया है। जब उसके मोबाइल नंबर 6207631948, 727765605, 6207321852, 9576098738 व 8797704492 पर संपर्क किया गया तो सभी नंबर बंद मिले।

बताया गया है कि वह पिछले 3 वर्षों से घर का किराया भी नहीं दिया था। उसके पास 1 लाख पचास हजार रुपये किराया बकाया था। जबकि पुराने जेवर के बदलने के लिए लगभग 150 ग्राम सोना एवं बच्चियों का जेवर बनाने के लिए 5 लाख रुपये नगद दिया था। वो भी साथ ले गया।

इधर घटना की खबर जैसे ही मोहल्ले में फैली, लोगों की भीड़ जमा हो गई. जिसमें कई लोगों ने बताया कि वे भी इस फ्रॉड का शिकार हुए हैं।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

ठगी के शिकार लोग

सुनील कुमार सोनी पिता कृष्णा प्रसाद सोनी 604 ग्राम सोना व 1 लाख 20 हजार नगद
विष्णु प्रसाद साहू पिता कैलाश प्रसाद से 5 लाख रुपये नगद
गुप्तेश्वर सोनी पिता राजेश प्रसाद 20 4 ग्राम सोना
तबस्सुम परवीन सगीर आलम 52 2 ग्राम सोना व 3 लाख रुपये नगद
मुस्तफा पिता मरहूम कमाल आलम 80 2 ग्राम सोना व 1 लाख 50 हजार रुपये नगद
मुस्तरी बीबी ऐनुल खान 30 ग्राम सोना व 1 लाख 50 हजार रुपये नगद
मो आरिफ पिता मरहूम इब्राहिम खान 60 ग्राम सोना व 3 लाख रुपये नगद
मनोरमा देवी रामचंद्र साव से 1 लाख रुपये नगद लेकर फरार हो गया है।

इधर, पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता ने बताया कि दिए गए आवेदन के आधार पर मामला दर्ज करते हुए छानबीन शुरू कर दी गयी है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

लातेहार ठग