Breaking :
||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी

लातेहार: मुठभेड़ में मारे गए तीनों TSPC उग्रवादियों की हुई पहचान, पुलिस ने परिजनों को सौंपा शव

लातेहार : सदर थाना क्षेत्र के कहुआखाड़ जंगल में शनिवार को पुलिस और नक्सली संगठन टीएसपीसी के बीच मुठभेड़ में मारे गए तीन उग्रवादियों का रविवार को सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम किया गया। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद तीन में से दो उग्रवादियों जितेंद्र यादव (चतरा) और करमदेव सिंह (मनिका) के शव उनके परिजनों को सौंप दिए। वहीं, तीसरे उग्रवादी की शिनाख्त लोहरदगा निवासी राजेश उरांव के रूप में हुई।

सदर अस्पताल में मजिस्ट्रेट प्रीति सिन्हा की मौजूदगी में डॉक्टरों की तीन सदस्यीय टीम ने तीनों शवों का पोस्टमार्टम किया। पुलिस ने मृतक के पास से एक मोबाइल फोन बरामद किया है। पुलिस इसी मोबाइल से उसकी शिनाख्त करने की कोशिश कर रही है।

सब जोनल कमांडर जितेंद्र यादव और एरिया कमांडर करमदेव सिंह के परिजन सुबह सदर अस्पताल पहुंच गए थे। अस्पताल के मुख्य द्वार पर जितेंद्र यादव की पत्नी रीता देवी और सास पतिया देवी रोती नजर आईं। इस दौरान मारे गए उग्रवादियों के परिजनों ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया।

घटना के दूसरे दिन मारे गए तीनों उग्रवादियों के शवों को सदर अस्पताल लाया गया। शनिवार की रात भी उग्रवादियों की लाश जंगल में ही पड़ी थी। इस दौरान पुलिस पूरे इलाके में तलाशी अभियान चला रही थी। रविवार की सुबह रांची से फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची और शवों का निरीक्षण कर आसपास के सैंपल लिए। इसके बाद घटनास्थल से शवों को उठाया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *