Breaking :
||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति||लातेहार: ऑपरेशन OCTOPUS के दौरान सुरक्षाबलों को मिली एक और बड़ी सफलता, अत्याधुनिक हथियार समेत भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद||लातेहार: बालूमाथ में विवाहिता की गला रेत कर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

लातेहार: पुलिस ने उग्रवादी संगठन TSPC के सबजोनल कमांडर व एरिया कमांडर समेत तीन को मार गिराया

लातेहार : जिला पुलिस ने आज एक बड़ी सफलता हासिल की है। सदर थाना क्षेत्र अंतर्गत पोचरा पंचायत के कहुआखांड जंगल में पुलिस और टीएसपीसी उग्रवादियों के बीच मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में पुलिस ने तीन हार्डकोर उग्रवादियों को मार गिराया है। पुलिस ने मुठभेड़ के बाद चलाये गए सर्च अभियान में भारी मात्रा में हथियार भी बरामद किये हैं।

मारे गए उग्रवादियों की प्रारंभिक पहचान टीएसपीसी उग्रवादी संगठन का सब जोनल कमांडर एक, एक एरिया कमांडर एवं एक दस्ता सदस्य के रूप में हुई है। इनके विस्तृत रूप से पहचान की कार्रवाई की जा रही है।

प्रेस को जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि जिला पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन को गुप्त सूचना मिली थी कि पोचरा पंचायत के हेसलबार और मारबार जंगल में टीएसपीसी के राकेश गंझू उर्फ राकेश भोक्ता उर्फ विराज, राजेश उरांव, जितेंद्र यादव एवं नथुनी का दस्ता 10-12 सदस्यों के साथ भ्रमणशील है।

मिली गुप्त सूचना के आधार पर जिला पुलिस बल एवं झारखंड जगुआर को लेकर एक टीम का गठन किया गया। गठित टीम ने टीएसपीसी उग्रवादियों के विरुद्ध जंगल में छापामारी अभियान चलाया।

इस दौरान टीएसपीसी और पुलिस के बीच कहुआखाड़ जंगल में मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में पुलिस एवं सशस्त्र बल को भारी पड़ता देख उग्रवादी दुर्गम व पहाड़ी जंगल का लाभ उठाकर भागने में सफल रहे।

आगे बताया कि इसके बाद पुलिस ने जंगल में सर्च अभियान चलाया। सर्च अभियान के दौरान पुलिस ने टीएसपीसी उग्रवादियों के तीन शव बरामद किए। प्रारंभिक पहचान टीएसपीसी उग्रवादी संगठन का सब जोनल कमांडर एक, एक एरिया कमांडर एवं एक दस्ता सदस्य के रूप में हुई है। इनके विस्तृत रूप से पहचान की कार्रवाई की जा रही है।

साथ ही सर्च अभियान के क्रम में पुलिस ने घटनास्थल से हथियार एवं अन्य सामग्री भी बरामद किया हैं। पुलिस ने बताया कि घटनास्थल के आसपास काफी मात्रा में खून के धब्बे पाए गए हैं। जिससे प्रतीत होता है कि इस मुठभेड़ में कई अन्य उग्रवादियों को गोली लगी है। जिनके भागने की दिशा में सर्च अभियान चलाया जा रहा है।

बरामद हथियार :-

7.62 एसएलआर राइफल एक, एसएलआर मैगजीन एक, 7.62 एमएम जिंदा गोली 26, 5.56 इंसास मैगजीन एक, कारतूस 15, AK47 का ज़िंदा गोली 8, AK47 का खोखा 3, AK47 का टूटा मैगजीन एक, मैगजीन पाउच एक समेत अन्य सामग्री बरामद किया गया है।

image – file photo


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *