Breaking :
||हेमंत सरकार का निर्णय, सरकारी कार्यक्रमों में ‘जोहार’ शब्द से अभिवादन करना अनिवार्य||सरकार खतियान आधारित स्थानीयता बिल फिर राज्यपाल को भेजेगी : JMM||राज्य स्तरीय झांकी में पलामू किला को मिला पहला स्थान, राज्यपाल ने किया पुरस्कृत||नहीं रहे ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नव किशोर दास, इलाज के दौरान तोड़ा दम||दुमका में मूर्ति विसर्जन के दौरान जय श्री राम के नारे बजाने को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प||मुख्यमंत्री ने लातेहार के कार्यपालक अभियंता पर अभियोजन चलाने की दी स्वीकृति||1932 के खतियान आधारित स्थानीयता वाले विधेयक को राज्यपाल ने लौटाया, कहा- सरकार वैधानिकता की करे समीक्षा||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने किया पतरातू गांव का दौरा, घटना की CID जांच की मांग||लातेहार: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों में भिड़ंत, गांव पहुंचे विधायक और एसपी, माहौल तनावपूर्ण||ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री पर जानलेवा हमला, कार से उतरते ही ASI ने मारी गोली

लातेहार: पैसों की लेनदेन में एक की हत्या, शव को जलाने का प्रयास, तीनों आरोपी गिरफ्तार

लातेहार : सदर थाना क्षेत्र के रिमिगाड़ा (भारुका पेट्रोल पंप के आगे) करकट के व्यक्ति की हत्या कर दी गयी। हत्या के बाद आरोपियों ने शव को लोहरदगा के जलसही जंगल में जलाने का प्रयास किया है।

पुलिस ने हत्या के आरोपी मो रफीक अंसारी, मो अख्तर अंसारी व मो करीम अंसारी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार पैसों की लेनदेन में इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया है।

मृतक की पहचान सदर थाना क्षेत्र के रिमिगाड़ा निवासी मो मनीर अंसारी के रूप में हुई है।

प्रेसवार्ता में जानकारी देते हुए एसडीपीओ संतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि रिमिगाड़ा निवासी मो मनीर अंसारी की पत्नी इमराना बीबी ने लातेहार सदर थाना में आवेदन देकर बताया कि उसका पति पिछले दो दिनों से अपने घर से लापता हैं और उनका फोन लगातार बन्द आ रहा है।

इसे भी पढ़ें :- शादी समारोह से लौट रहे बाइक सवार पति-पत्नी को पिकअप ने मारी टक्कर, पति की दर्दनाक मौत, पत्नी गंभीर

महिला की लिखित शिकायत के बाद मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर एसडीपीओ के नेतृत्व में मामला दर्ज करते हुए एक छापामारी दल का गठन किया गया।

अनुसंधान के क्रम में इस कांड में मो रफीक अंसारी, अख्तर अंसारी व करीम अंसारी को संदिग्ध पाया गया। जिसके बाद छापामारी दल ने तीनों अभियुक्तों गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की।

उन्होंने बताया कि पूछताछ में तीनों अभियुक्तों ने इस कांड में अपनी संलिप्तता को स्वीकार की। अभियुक्तों के द्वारा बताया गया कि मृतक मनीर अंसारी ने अभियुक्त अख्तर अंसारी को एक लाख इक्कीस हजार रुपये उधार दिए थे। जिसकी मांग मृतक के द्वारा लगातार अभियुक्त से किया जा रहा था। लेकिन अभियुक्त पैसा देना नहीं चाहता था।

इसे भी पढ़ें :- झारखंड पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा की अधिसूचना जारी, जुलाई में होगी प्रवेश परीक्षा

गिरफ्तार तीनों आरोपी जो आपस में रिश्तेदार हैं। इनलोगों ने मनीर की हत्या करने की योजना बनाई। हत्या करने के उद्देश्य से पहले मनीर को फोन कर लातेहार बुलाया उसके बाद आरोपियों ने मृतक को पैसा देने की बात कहकर लोहरदगा जिले के जोबांग थाना क्षेत्र के मक्का गांव साथ ले गए।

तीनों ने मक्का स्थिति जलसही जंगल में गला घोंटकर और पत्थर से कूचकर उसकी हत्या कर दी एवं मृतक के शव को जलसही जंगल में ले जाकर भारी पत्थरों के नीचे दबाकर जलाने का प्रयास किया गया।

पुलिस ने बताया कि आरोपियों की निशानदेही पर जलसही जंगल से मृतक का अधजला शव बरामद किया गया। जिसे पोस्टमार्टम के बाद उसके परिजनों को सौंप दिया गया है। आरोपियों की निशानदेही पर मृतक का मोबाईल फोन, लूना, घटना में प्रयुक्त मोटरसाईकिल एवं पत्थर बरामद किया गया है। तीनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत भेज दिया गया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

गिरफ्तार आरोपी

रफीक अंसारी, पिता स्व जमीर मियाँ, करकट, लातेहार
अख्तर अंसारी, पिता रहमत अंसारी, रुबेद, जोबांग, लोहरदगा
करीम अंसारी, पिता स्व जुमराती अंसारी, मक्का, बारियातु, जोबांग, लोहरदगा

बरामद सामानों की सूची

मृतक का लूना मोटरसाईकिल
अभियुक्त का यामाहा मोटरसाईकिल
मोबाईल फोन
खून लगा पत्थर

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

छापामारी दल

पुअनि दीपक नारायण सिंह
पुअनि रोहित कुमार महतो
पुअनि अजय कुमार दास
सशस्त्र बल व रिजर्व गार्ड, लातेहार थाना