Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: बालूमाथ में वज्रपात से एक लड़की की मौत, चार अन्य लड़कियां घायल

लातेहार : बालूमाथ थाना क्षेत्र के चितरपुर गांव में आज शाम करीब 4:00 बजे बारिश के साथ वज्रपात होने से एक 15 वर्षीय किशोरी की मौत हो गई। जबकि 4 अन्य बच्चिया घायल हो गई।

मृतक 15 वर्षीय किशोरी की पहचान चितरपुर निवासी रामदयाल उरांव की पुत्री सरस्वती कुमारी के रूप में हुई है। जबकि घायलों में ग्राम निवासी वृक्ष उरांव की पुत्री बिंदु कुमारी, प्रमोद उरांव की पुत्री सिमरन कुमारी व शीतल कुमारी तथा शीतल उरांव की पुत्री दीपा कुमारी शामिल है।

सभी घायलों का प्राथमिक उपचार बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर अशोक ओड़िया की देखरेख में किया जा रहा है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जानकारी के अनुसार सभी लड़कियां गांव के फुटबॉल मैदान किनारे स्थित जामुन का फल खाने गई थीं। इसी दौरान तेज आंधी तूफान के साथ जोरदार बारिश होने लगी। जिससे बचने के लिए सभी बच्चियां जामुन पेड़ के नीचे खड़ी हो गई। इसी दौरान वज्रपात हो गया जिसमें 15 वर्षीय किशोरी सरस्वती कुमारी की मौत मौके पर ही हो गई।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

जबकि इस हादसे में चार अन्य बच्चियां बेहोश होकर करीब पौन घंटे तक घटनास्थल पर ही पड़ी रहीं। बाद इसकी जानकारी ग्रामीणों को मिली तो आनन-फानन में घायल बच्चियों को इलाज के लिए बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। जहां सभी घायल बच्चियों की स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है। इस घटना में किशोरी की मौत हो जाने के बाद परिजनों व शुभचिंतकों का रो-रोकर बुरा हाल है।

advt