Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: पत्थर खदान, क्रशर व ईंट भट्ठों की जांच, ईट भट्ठा संचालक पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश

लातेहार : उपायुक्त अबु इमरान के निर्देश पर अनुमंडल पदाधिकारी शेखर कुमार व जिला खनन पदाधिकारी आनन्द कुमार की टीम ने चंदवा प्रखंड अंतर्गत लोहरसी में स्थित पत्थर खदान एवं हुटाप में स्थित पत्थर क्रशर का निरीक्षण किया।

उक्त पत्थर खदान एवं क्रशर के अनुज्ञप्तिधारी संतोष कुमार सिंह हैं। जिला खनन पदाधिकारी ने पत्थर खदान एवं क्रशर से सम्बंधित खनन अनुज्ञप्ति, भंडारण अनुज्ञप्ति, सीटीओ इत्यादि की जाँच की।

वहीं अनुमंडल पदाधिकारी ने अंचल अधिकारी चंदवा को अनुज्ञप्तिधारी के पक्ष में स्वीकृत लीज क्षेत्र के दायरे में ही या उससे अधिक क्षेत्र में खनन व भंडारण किया जा रहा है, इस सम्बन्ध में जाँच कर विस्तृत प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इसके अलावा चंदवा प्रखंड अंतर्गत 5 ईंट भट्टो की भी जाँच की गयी। जाँच में पाया गया कि सेरक स्थित ईंट भट्टा के संचालक के द्वारा रॉयल्टी का भुगतान नहीं किया जा रहा है। इस पर अनुमंडल पदाधिकारी ने उक्त ईंट भट्टा के संचालक पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

अनुमंडल पदाधिकारी ने जाँच के क्रम में पाँचों ईंट भट्टा के संचालकों को ईंट भट्टा में प्रयुक्त होने वाले कोयले की वैधता के सम्बन्ध में कागजात उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।