Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Thursday, May 23, 2024
लातेहार

वन विभाग ने तीन ट्रैक्टरों में लदी अवैध लकड़ी जब्त की, चार पर नामजद प्राथमिकी दर्ज

लातेहार वन विभाग

लातेहार : पलामू व्याघ्र परियोजना के तहत दक्षिणी वन प्रमंडल के बारेसाढ़ वन क्षेत्र में गुप्त सूचना पर रेंजर तरुण कुमार के नेतृत्व में छापेमारी अभियान चलाया गया।

अभियान में पीएफ पहाड़कोचा के पास से लकड़ी लदे तीन ट्रैक्टर जब्त किए गए। इसकी कीमत करीब 50 हजार रुपए आंकी गई है। इस संबंध में चार लोगों के खिलाफ वन अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

रेंजर कुमार ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि पहाड़कोचा पीएफ वन से अवैध लकड़ी लाकर ईंट भट्ठे में रख दी गई है। सूचना पर वनकर्मियों की टीम गठित कर पहाड़कोचा में छापेमारी की गई, जहां से तीन ट्रैक्टर लकड़ी के बोटे जब्त किए गए। इसकी कीमत 50 हजार रुपये आंकी गई है।

उन्होंने कहा कि डीएफओ को सूचना मिली थी कि संतोष यादव, मुन्ना सिंह, एल्विनस लकड़ा सभी पहाड़कोचा गांव और सुनील प्रसाद बारेसाढ़ ने अवैध रूप से लकड़ी के बोटा की कटाई कर ईंट भट्ठा जलाने के लिए स्टोर कर रखा है। इसके आधार पर लकड़ी का बोटा जब्त कर लिया गया।

वनकर्मियों की छापेमारी देख इसमें शामिल लोग भाग खड़े हुए। इस संबंध में चारों के खिलाफ बारेसाढ़ थाने में मामला दर्ज किया गया है। अभियान में बड़ी संख्या में बारेसाढ़ के वनकर्मी शामिल थे।

लातेहार वन विभाग


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *