Breaking :
||लातेहार: मनिका में संदेहास्पद स्थिति में पेड़ से लटका मिला युवक का शव||झारखंड में सात IAS अफसरों का टांस्फर-पोस्टिंग, रमेश घोलप बने चतरा डीसी||गढ़वा जाने के क्रम में लातेहार पहुंचे सीएम चम्पाई सोरेन, कहा- बैद्यनाथ राम को मंत्री बनाने पर फैसला जल्द||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट
Sunday, March 3, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में मारपीट, दो गंभीर रूप से घायल

विक्रम कुमार/लातेहार

लातेहार : सदर थाना क्षेत्र के नेवाड़ी पंचायत के ओबेर गांव में सोमवार सुबह जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। जिसमें निर्मला कुमारी 15 साल सुशीला कुमारी 14 साल गंभीर रूप से घायल हो गईं। कुछ लोगों को अंदरूनी चोटें आई हैं।

वही भुक्तभोगी ने बताया कि मेरे गोतिया मंगल देव भुइयां पिता अधीन भुइयां, सकलदेव भुइयां पिता अधीन भुइयां, दशरथ भुइयां पिता अधीन भुइयां, मनोज भुइयां पिता फूलदेव भुइयां, विनोद भुइयां पिता बलदेव भुइया, रविंदर भुइयां पिता बलदेव भुइया, अखिलेश भुइया पिता बलदेव भुइयां, मंटू भुइया पिता बुधराम भुइयां, संटू भुइयां पिता बुधराम भुइयां, बीरबल भुइयां पिता सुखदेव भुइयां, सुनील भुइयां पिता सुखदेव भुइयां ये सभी लोग मेरे घर आए और कहने लगे कि जमीन का बंटवारा करो। जबकि पहले से ही पूर्वजों के द्वारा जमीन का बंटवारा कर लिया गया था।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

हम अपने पूर्वजों के बताए रास्ते पर खेती करते रहे हैं। आज इन लोगों के अधिक परिवार होने के कारण ये लोग बंटवारे के नाम पर जबरन हमारी जमीन हड़पना चाहते हैं। हमने इसका विरोध किया तो इन लोगों ने अहंकार दिखाकर हमें लाठियों से पीटना शुरू कर दिया।

बाद में उसे बेहोश कर वहां से फरार हो गया। सदर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। उन्होंने आगे कहा कि जब हम थाने से प्राथमिकी दर्ज कर घर वापस आए तो हमें धमकाया जा रहा था।