Breaking :
||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री||JPSC पीटी के मॉडल आंसर को चुनौती देने वाली याचिका हाईकोर्ट में खारिज, परीक्षा का रास्ता साफ||लातेहार: सेरेगड़ा पंचायत सेवक अर्जुन राम रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||झारखंड में चार DSP की ट्रांसफर-पोस्टिंग, समीर कुमार सवैया बने किस्को के DSP||झारखंड कैबिनेट का फैसला, सरकार करायेगी जातिगत गणना, विधायकों का वेतन भत्ता बढ़ा, रिटायर्ड कर्मचारियों को भी मिलेगी प्रमोशन||झारखंड को नशामुक्त राज्य बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध, हर किसी की सहभागिता जरूरी : मुख्यमंत्री
Friday, June 21, 2024
पलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में मारपीट, दो गंभीर रूप से घायल

विक्रम कुमार/लातेहार

लातेहार : सदर थाना क्षेत्र के नेवाड़ी पंचायत के ओबेर गांव में सोमवार सुबह जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। जिसमें निर्मला कुमारी 15 साल सुशीला कुमारी 14 साल गंभीर रूप से घायल हो गईं। कुछ लोगों को अंदरूनी चोटें आई हैं।

वही भुक्तभोगी ने बताया कि मेरे गोतिया मंगल देव भुइयां पिता अधीन भुइयां, सकलदेव भुइयां पिता अधीन भुइयां, दशरथ भुइयां पिता अधीन भुइयां, मनोज भुइयां पिता फूलदेव भुइयां, विनोद भुइयां पिता बलदेव भुइया, रविंदर भुइयां पिता बलदेव भुइया, अखिलेश भुइया पिता बलदेव भुइयां, मंटू भुइया पिता बुधराम भुइयां, संटू भुइयां पिता बुधराम भुइयां, बीरबल भुइयां पिता सुखदेव भुइयां, सुनील भुइयां पिता सुखदेव भुइयां ये सभी लोग मेरे घर आए और कहने लगे कि जमीन का बंटवारा करो। जबकि पहले से ही पूर्वजों के द्वारा जमीन का बंटवारा कर लिया गया था।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

हम अपने पूर्वजों के बताए रास्ते पर खेती करते रहे हैं। आज इन लोगों के अधिक परिवार होने के कारण ये लोग बंटवारे के नाम पर जबरन हमारी जमीन हड़पना चाहते हैं। हमने इसका विरोध किया तो इन लोगों ने अहंकार दिखाकर हमें लाठियों से पीटना शुरू कर दिया।

बाद में उसे बेहोश कर वहां से फरार हो गया। सदर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। उन्होंने आगे कहा कि जब हम थाने से प्राथमिकी दर्ज कर घर वापस आए तो हमें धमकाया जा रहा था।