Breaking :
||हजारीबाग सांसद जयंत सिन्हा ने राजनीति से लिया संन्यास, भाजपा अध्यक्ष को लिखा पत्र, जानिये वजह||दुमका में स्पेनिश महिला पर्यटक से गैंग रेप, तीन आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: बारियातू में बाइक पर अवैध कोयला ले जा रहे नौ लोग गिरफ्तार, जेल||लातेहार: अपराध की योजना बनाते दो युवक हथियार के साथ गिरफ्तार||पलामू: पेड़ से टकराकर पुल से नीचे गिरी बाइक, दो नाबालिग छात्रों की मौत, दो की हालत नाजुक||लोकसभा चुनाव: भाजपा ने की झारखंड से 11 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा, चतरा समेत इन तीन सीटों पर सस्पेंस बरकरार||लोससभा चुनाव: भाजपा की 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी, देखें पूरी लिस्ट||सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायकों का हंगामा||झारखंड विधानसभा: बजट सत्र के अंतिम दिन कई विधेयक पारित||धनबाद: अस्पताल में लगी आग, मची अफरा-तफरी, मरीज और परिजन जान बचाकर भागे
Sunday, March 3, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडपलामू प्रमंडललातेहार

LATEHAR BREAKING: बड़ा रेल हादसा टला, पहाड़ के टुकड़े पटरी पर गिरे

लातेहार रेल हादसा

लातेहार : बरकाकाना-बरवाडीह रेलखंड के रिचुघुटा और चेतर स्टेशन के बीच रविवार की दोपहर तीसरी रेल लाइन निर्माण के दौरान एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया। ब्लास्टिंग के दौरान पहाड़ के बड़े-बड़े टुकड़े टूट कर अप लाइन के रेलवे ट्रैक पर जा गिरे। जिससे रेलवे ट्रैक पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। जिससे अप लाइन पर ट्रेन का परिचालन पूरी तरह से बाधित हो गया। जो करीब 3 घंटे तक रहा।

यहाँ पर चल रहा था काम

ब्लास्टिंग के दौरान हुआ हादसा

जानकारी के अनुसार इस रेलखंड पर आरवीएनएल द्वारा तीसरी रेलवे लाइन का निर्माण किया जा रहा है। निर्माण कार्य के दौरान प्रस्तावित मार्ग पर एक पहाड़ आ रहा था। जिसे आरवीएनएल कर्मियों की देखरेख में पोल संख्या 190/17 के पास ब्लास्ट कर रास्ते से हटाया जा रहा था।

बाल-बाल बची मालगाड़ी

इस दौरान अनियंत्रित विस्फोट से पहाड़ टूट गया और रेलवे ट्रैक पर गिर गया। पहाड़ के टुकड़े इतने बड़े थे कि रेलवे ट्रैक क्षतिग्रस्त हो गया। गनीमत रही कि टोरी जंक्शन से अप लाइन पर आ रही मालगाड़ी चालक की सूझबूझ से बाल-बाल बच गई।

मौके पर पहुंचे रल अधिकारी

इधर हादसे की सूचना पर रेलवे के अधिकारी मौके पर पहुंचे और काफी मशक्कत के बाद अप लाइन पर गिरी बड़ी चट्टानों को जेसीबी की मदद से हटाया गया। खबर लिखे जाने तक करीब तीन घंटे के बाद रेल परिचालन फिर से शुरू कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि रेलवे ट्रैक के आसपास पड़े पहाड़ के टुकड़ों को अभी भी ब्लॉक लेकर हटाने का कार्य किया जा रहा है।

आरवीएनएल कर्मियों को लगाईं फटकार

मिली जानकारी के अनुसार रेलवे अधिकारियों ने मौके पर मौजूद आरवीएनएल के अधिकारियों व कर्मियों को इस लापरवाही के लिए फटकार लगाई।

आरवीएनएल की कार्यशैली पर उठ रहे सवाल

आज जिस तरह से एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया, उसी तरह तीसरी रेलवे लाइन का निर्माण कर रही आरवीएनएल की कार्यशैली पर भी कई सवाल उठ रहे हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

लातेहार रेल हादसा