Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Friday, April 19, 2024
लातेहार

पांडेयपुरा में गाजे बाजे के साथ निकाली गयी कलश यात्रा, 201 कन्याओं ने लिया भाग, झूमे श्रद्धालु

लातेहार : सदर प्रखंड के पाण्डेयपुरा गांव में रविवार को मां दुर्गा की प्रतिमा की स्थापना कर सार्वजनिक दुर्गा पूजा समिति द्वारा बड़ी धूमधाम से कलश यात्रा निकाली गयी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मुख्य यजमान के रूप में सपत्नीक राम नारायण प्रसाद ने पूजा-अर्चना की। कलश यात्रा के दौरान 201 बालिकाएं शिव मंदिर परिसर से कलश लेकर सालोडीह स्थित गर्मजल कुण्ड पर पहुंचीं। जहां गांव के पुजारी सूर्यदेव उपाध्याय द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार कर कलश में जल भरा गया।

जल भरने के बाद, शिव फिर से मंदिर पहुंचे और कलश स्थापित किए गए। इसके बाद उपस्थित श्रद्धालुओं में महाप्रसाद का वितरण किया गया। कलश यात्रा के दौरान भक्तों ने भक्ति गीतों में नृत्य किया। भक्ति गीतों से पूरा गांव भक्तिमय हो गया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इस अवसर पर विश्वनाथ प्रसाद, गोविंद प्रसाद, बसंत प्रसाद, श्याम बिहारी प्रसाद, दिलीप प्रसाद, दिनेश प्रसाद, काशी प्रसाद, अशोक प्रसाद, सुरेंद्र प्रसाद, केदार प्रसाद, पंकज गुप्ता, महेश प्रसाद, नवल प्रसाद, ओमप्रकाश प्रसाद, चंद्रशेखर प्रसाद, पिंटू प्रसाद, कुंदन प्रसाद, पवन प्रसाद, निरंजन प्रसाद, प्रभात कुमार, अखिलेश कुमार, आनंद कुमार, प्रमोद कुमार, नितेश कुमार, संजय प्रसाद, वरुण प्रसाद, विकास प्रसाद, अमर प्रसाद, सनोज कुमार, बीरबल प्रसाद, देव कुमार समेत गांव के बुजुर्ग, युवक, युवतियां, महिलाएं आदि मौजूद थे।