Breaking :
||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन||हेमंत ने जमशेदपुर वासियों को दी सौगात, जुगसलाई ओवरब्रिज का किया उद्घाटन||जमशेदपुर-कोलकाता विमान सेवा का शुभारंभ, मुख्यमंत्री ने कहा- सभी जिलों को हवाई सेवा से जोड़ने की तैयार की जा रही कार्ययोजना||पलामू में हल्का कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार||पाकुड़: मूर्ति विसर्जन के दौरान असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर किया पथराव||हजारीबाग: पुआल में लगी आग, दो मासूम बच्चे जिंदा जले, पुलिस जांच में जुटी||चाईबासा: PLFI के तीन उग्रवादी गिरफ्तार, AK-47 समेत अन्य हथियार बरामद

लातेहार : ग्रामीण विकास मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने किया हाई स्कूल सासांग व ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान का निरीक्षण

लातेहार : संयुक्त सचिव ग्रामीण विकास विभाग, भारत सरकार करमा जिम्पा भूटिया ने आज चंदवा प्रखंड अंतर्गत हाई स्कूल सासांग का औचक निरीक्षण किया।

उन्होंने औचक निरीक्षण करने के बाद स्कूल में शिक्षकों व बच्चों की उपस्थिति के साथ ही बच्चों को दी जाने वाली सुविधाओं का जायजा लिया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस दौरान संयुक्त सचिव ने विद्यालय में शिक्षा के तौर-तरीकों और उन्हें दी जा रही मूलभूत सुविधाओं के अलावा विद्यालय में छात्रों को दिए जाने वाले मध्याह्न भोजन के बारे में भी जानकारी ली। साथ ही स्कूल में बेंच डेस्क, बिजली, पंखा, पानी, शौचालय आदि की उपलब्धता से सभी मूलभूत सुविधाओं की स्थिति से अवगत कराया गया।

इसके बाद संयुक्त सचिव करमा जिम्पा भूटिया ने ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान लातेहार का निरीक्षण कर स्थिति का जायजा लिया। इस दौरान आरएसईटी के निदेशक ने जानकारी देते हुए कहा कि एसबीआई बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान लातेहार द्वारा महिलाओं के लिए दस दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया है।

दस दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में महिलाओं को मोमबत्ती व अगरबत्ती बनाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए मोमबत्ती और अगरबत्ती बनाने की विधि पर विस्तार से प्रकाश डाला गया।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इस दौरान संयुक्त सचिव ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि बिना प्रशिक्षण के कोई भी कार्य सफल नहीं होता है। खासकर अगर महिलाएं आत्मनिर्भर हों तो समाज की दशा और दिशा बदल सकती है। हर कोई लगन से प्रशिक्षण लेता है।

संयुक्त सचिव ने RSETI में आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम और प्रशिक्षण के बाद प्रशिक्षुओं की नियुक्ति के बारे में जानकारी ली। संयुक्त सचिव ने प्रशिक्षुओं के प्रशिक्षण कक्ष, छात्रावास और मेस का भी निरीक्षण किया।