Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज
Sunday, June 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडललातेहार

झारखंड: लातेहार फूड प्वाइजनिंग मामले में भाजपा प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने दी तीखी प्रतिक्रिया

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

दोषी अधिकारियों को बर्खास्त करने की अनुशंसा करें डीसी

एक सप्ताह के भीतर जिले में इस तरह की यह दूसरी घटना

लातेहार : भाजपा प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने लातेहार में रिंग्स व कुरकुरे खाने से फिर दो बच्चों के बीमार होने के मामले में गहरी नाराजगी जाहिर की है। कहा कि प्रतिबंध के बावजूद रिंग्स व कुरकुरे की बिक्री खुलेआम हो रही है। उन्होंने कहा बालूमाथ के बसिया गांव में दो बच्चियों की तबीयत आज फिर से रिंग्स कुरकुरे खाने के कारण बिगड़ गई और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

प्रतुल ने कहा कि इसके पहले भी चंदवा के परसाही गांव में रिंग्स कुरकुरे खाने से 2 बच्चियों की दुःखद मौत हो गई थी और 2 अन्य बच्चों को गंभीर हालत में रिम्स में भर्ती कराया गया था। कहा कि उस समय भी प्रशासन ने गोदाम को सील करने की बात कही थी और दुकानों में छापेमारी अभियान चलाया था। लेकिन यह सब सिर्फ आईवॉश था क्योंकि अभी भी जिले में रिंग्स व कुरकुरे की बिक्री लगातार जारी है। लापरवाही के कारण छोटे-छोटे बच्चों की जान खतरे में पड़ रही है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

उन्होंने डीसी से मांग किया है कि जिन अधिकारियों की लापरवाही से आज फिर बच्चियों की जान खतरे में आ गई है, उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज हो। इन लापरवाह अधिकारियों की बर्खास्तगी की भी अनुशंसा की जाय।उन्होंने कहा कि अभी भी प्रशासन चेते और कड़े कदम उठाएं। गोदाम को सील किया जाए और दुकान से घटिया स्नैक्स को हटवाया जाए।

इसे भी पढ़ें :- झारखंड: लातेहार में पैकेट बंद रिंग्स व कुरकुरे खाने से दो बच्चे फिर बीमार, एक की हालत गंभीर, रिम्स रेफर

advt