Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
लातेहार

पलामू प्रमंडल के लातेहार जिले को एनएसएस का ओरिएंटेशन सह प्रशिक्षण कार्यक्रम देना गौरव की बात : बैद्यनाथ राम

दीपक मिश्रा/लातेहार

बीएस कॉलेज में आयोजित राष्ट्रीय सेवा योजना उन्मुखीकरण का दो दिवसीय कार्यशाला संपन्न

लातेहार : नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय और बनवारी साहू कॉलेज के तत्वावधान में आयोजित एनएसएस (राष्ट्रीय सेवा योजना) का दो दिवसीय उन्मुखीकरण-सह-नेतृत्व प्रशिक्षण और सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम शुक्रवार को संपन्न हुआ।

सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम में स्थानीय विधायक बैजनाथ राम मौजूद थे, जबकि कार्यक्रम के दूसरे दिन एनएसएस बिहार झारखंड के क्षेत्रीय निदेशक पीयूष परांजपे मौजूद थे। इस अवसर पर आयोजित सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम में एनएसएस के स्वयंसेवकों ने गीत, नृत्य और नाटक की उत्कृष्ट प्रस्तुति दी।

एनएसएस के बालक-बालिकाओं ने देशभक्ति, दहेज प्रथा, बेटी बचाओ, जल संरक्षण, नशा मुक्ति व अन्य विषयों पर प्रस्तुतियां देकर शमां में चार चांद लगा दिया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि स्थानीय विधायक बैजनाथ राम ने कहा कि पलामू प्रमंडल के लातेहार जिले को एनएसएस का ओरिएंटेशन सह प्रशिक्षण कार्यक्रम दिया गया, यह लातेहार के लिए गौरव की बात है। इसके लिए उन्होंने नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय के प्रति आभार व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना बच्चों में सेवा की भावना जगाती है, समाज में लोगों की मदद करना सिखाती है और यह स्वयंसेवकों में भी दिखाई देता है। उन्होंने कार्यक्रम की सफलता के लिए बीएस कॉलेज और एनएसएस की पूरी टीम को बधाई दी।

कार्यक्रम के दूसरे दिन एनएसएस बिहार झारखंड के क्षेत्रीय निदेशक पीयूष परांजपे मौजूद थे। उन्होंने स्वयंसेवकों और कार्यक्रम अधिकारी के बीच शैक्षिक प्रशिक्षण में भाग लिया और एनएसएस के संबंध में नई जानकारी दी।

सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम में योध सिंह महिला महाविद्यालय मेदिनीनगर ने प्रथम, एमके कॉलेज पांकी ने द्वितीय व बनवारी साहू कॉलेज ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

सर्वश्रेष्ठ एनएसएस वालंटियर (लड़का) का पुरस्कार एमके कॉलेज, पांकी के प्रदीप कुमार को दिया गया, सर्वश्रेष्ठ एनएसएस वालंटियर (लड़की) का पुरस्कार योध सिंह नामधारी महाविद्यालय की गार्गी को दिया गया।

सर्वश्रेष्ठ कार्यक्रम अधिकारी (पुरुष) बनवारी साहू के नवल किशोर प्रसाद और योध सिंह नामधारी कॉलेज की सीमा कुमारी को सर्वश्रेष्ठ कार्यक्रम अधिकारी (महिला) का पुरस्कार दिया गया।

क्षेत्रीय निदेशक पीयुष परांजपे ने सभी को प्रमाण- पत्र का भी वितरण किया। इस अवसर पर राज्य नोडल पदाधिकारी डा ब्रजेश कुमार, विनोबा भावे विष्वविद्यालय की डा रूफिना तिर्की, नीलाम्बर पीताम्बर विश्वविद्यालय के समन्वयक डा विभेष चौबे, प्राचार्य पीके तिवारी, सचिव अंजू गुप्ता, अमरेश पांडेय, नरेश पांडेय सहित अन्य शिक्षकगण ‌एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे।

क्षेत्रीय निदेशक पीयूष परांजपे ने भी सभी को प्रमाण पत्र वितरित किए। इस अवसर पर राज्य नोडल अधिकारी डॉ. ब्रजेश कुमार, विनोबा भावे विश्वविद्यालय की डॉ. रूफिना तिर्की, नीलांबर पीतांबर विश्वविद्यालय के समन्वयक डॉ. विभेश चौबे, प्राचार्य पीके तिवारी, सचिव अंजू गुप्ता, अमरेश पांडे, नरेश पांडेय सहित अन्य शिक्षक व कर्मचारी मौजूद रहे।