Breaking :
||भीषण गर्मी की चपेट में झारखंड, सूरज उगल रहा आग, विशेषज्ञों ने बताये बचाव के उपाय||लातेहार: मनिका स्थित कल्याण गुरुकुल में युवती की संदिग्ध मौत, जांच में जुटी पुलिस||रांची के रातू रोड इलाके से गुजर रहे हैं तो हो जायें सावधान! बाइक सवार बदमाशों की है आप पर नजर||गढ़वा में सैकड़ों चमगादड़ों की दर्दनाक मौत, भीषण गर्मी से मौत की आशंका||लातेहार: अमझरिया घाटी की खाई में गिरा ट्रक, चालक और खलासी की मौत||मैक्लुस्कीगंज में ऑप्टिकल फाइबर बिछाने के काम में लगे कंटेनर में नक्सलियों ने लगायी आग, जिंदा जला मजदूर||फल खरीदने गया पति, प्रेमी के साथ भाग गयी पत्नी||पलामू में 47.5 डिग्री पहुंचा पारा, मई महीने का रिकॉर्ड टूटा, दशक का सर्वाधिक अधिकतम तापमान||DJ सैंडी मर्डर केस : हत्या और मारपीट का मामला दर्ज, बार संचालक व बाउंसर समेत 14 गिरफ्तार||झारखंड की चर्चा खूबसूरत पहाड़ों की वजह से नहीं बल्कि नोटों के पहाड़ की वजह से हो रही : मोदी
Thursday, May 30, 2024
लातेहार

सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में उत्पाद अधीक्षक ने कहा- हड़िया-दारू बेचना छोड़ रोजगार से जुड़ें महिलायें

लातेहार. उत्पाद अधीक्षक प्रदीप कुमार सिन्हा ने गांव की महिलाओं से हडि़या दारू बेचना छोड़ कर अन्य रोजगार करने की अपील की. वह मनिका के कोपे पंचायत सचिवालय में आयोजित आपकी योजना, आपकी सरकार, आपके द्वार कार्यक्रम मे बोल रहे थे।

उन्होने कहा कि सरकार ने फूलो झानो आशीर्वाद योजना के तहत हडि़या दारू बेचना छोड़ कर दूसरा रोजगार करने के लिए दस से 50 हजार रूपये तक का बिना ब्याज का ऋण उपलब्ध करा रही है। उन्होने सखी मंडलों से जुड़ कर इस योजना का लाभ उठाने की अपील की है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

कार्यक्रम में प्रखंड 20 सूत्री अध्यक्ष विश्वनाथ पासवान ने सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने की अपील की। उन्होने कहा कि झारखंड सरकार के तीन वर्ष पूरे होने के अवसर पर यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है। इस कार्यक्रम में सरकार व प्रशासन के लोग आपके द्वार आये हैं। आप सरकारी योजनाओं का लाभ अवश्य लें।

विधायक प्रतिनिधि दरोगी प्रसाद यादव ने कहा कि झारखंड सरकार का प्रयास है कि समाज के अंतिम पायदान पर खड़े लोगों को भी उनका हक मिले। इसी उदेश्य से यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

कार्यक्रम में स्वर संगम म्यूजिकल ग्रुप लातेहार के द्वारा नुक्कड़ नाटक एवं गीतों के माध्यम से सरकारी योजनाओं की जानकारी दी गयी और सामाजिक कुरीतियों व अंधविश्वास में नहीं पड़ने की अपील की गयी।