Breaking :
||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर||एकतरफा प्यार में बाइक सवार मनचले ने स्कूटी सवार युवती को धक्का देकर मार डाला||आजसू ने रामगढ़ विधानसभा सीट से सुनीता चौधरी को मैदान में उतारा||झारखंड में अब मुफ्त नहीं मिलेगा पानी, सरकार को देना होगा 3.80 रुपये प्रति लीटर की दर से वाटर टैक्स||27 फरवरी से 24 मार्च तक झारखंड विधानसभा का बजट सत्र, राज्यपाल की मिली स्वीकृति

वृद्ध दंपत्ति के खाते से अवैध रूप से निकाली पेंशन राशि, कार्रवाई की मांग

लातेहार : चंदवा के हुटाप पंचायत अंतर्गत भदईटांड़ गांव निवासी कृष्णा टोपनो व उनकी पत्नी सुबासी देवी के खाते से मार्च माह में अवैध रूप से पैसे की निकासी की गयी है। खाताधारक को इस बात की जानकारी तब हुई जब वह सोमवार को चंदवा स्थित एसबीआई बैंक पैसे निकालने पहुंचे।

इस संबंध में पीड़ित पति पत्नी और उनके पोते रोहित टोपनो ने बताया कि पिछले साल दिसंबर से कृष्णा मुंडा घर से कहीं बाहर नहीं निकले। इसके बावजूद 3 मार्च को उनके खाते से 7 हजार रुपये निकल चुके हैं। इसी तरह उनकी पत्नी सुबासी देवी भी भदईटांड़ से बाहर नहीं निकली। इसके बावजूद 3 मार्च को ही उनके खाते से भी 7 हजार रुपये निकल चुके हैं। वृद्धावस्था पेंशन की राशि दोनों वृद्धों के खाते में आती है।

पोते रोहित टोपनो के मुताबिक पहली बार अवैध रूप से पैसे की निकासी नहीं हुई है। पूर्व में भी वर्ष 2020 में इनके खाते से क्रमश: 8 हजार रुपये और 5 हजार रुपये की अवैध निकासी की जा चुकी है। रोहित टोपनो ने बताया कि वह इस समस्या को लेकर एसबीआई की मेन रोड ब्रांच गए थे। बैंक में ही उन्हें सूचना मिली थी कि 3 मार्च को उनके खातों से अवैध निकासी की गई है।

रोहित ने बताया कि बैंकरों ने आवेदन लेने से इनकार कर दिया। उन्होंने सुभाष चौक स्थित प्रज्ञा केंद्र में आवेदन करने की बात कही, जहां से उन लोगों ने खाता खुलवाया था। पीड़ित इस बात से परेशान हैं कि उनके हिस्से की राशि अवैध रूप से निकाली जा रही है। उन लोगों ने एसबीआई की बैंकिंग सेवा से अपना खाता खुलवाया था। खाता खोलने वाले का नाम कुणाल मिस्त्री के रूप में दिखाया गया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

बता दें कि इन दिनों कई राष्ट्रीयकृत बैंक प्रज्ञा केंद्र को काम करने का लाइसेंस दे रहे हैं। प्रज्ञा केंद्र अपने निर्धारित व निश्चित स्थान से दूर शहर में अवैध रूप से केंद्र संचालित कर रहे हैं। बड़ी मात्रा में वृद्धावस्था पेंशन और मनरेगा श्रमिकों के हक का चालाकी से हेराफेरी किया जा रहा है। वृद्ध दंपत्ति ने भारतीय स्टेट बैंक की चंदवा शाखा से अवैध निकासी से संबंधित जानकारी उपलब्ध कराने की मांग करते हुए मदद की अपील की है।