Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Friday, June 14, 2024
गारूलातेहार

पीसीसी निर्माण कार्य में अनियमितता का मामला उजागर, झामुमो प्रखंड अध्यक्ष ने की जांच की मांग

गोपी कुमार सिंह/गारू

लातेहार ज़िले के गारू प्रखंड कार्यालय परिसर में अनियमितता का मामला उजागर हुआ है। मुख्य सड़क से कार्यालय के गेट तक पीसीसी पथ का निर्माण कार्य कराया गया है। उक्त कार्य बगैर योजना बोर्ड लगाये आनन फानन में रविवार को कराया गया है।

योजना की प्राकलित राशि और लाभुक समिति का जानकारी नहीं मिल पा रहा है। नियमों के ताख पर रखकर काम होते देख किसी जागरूक व्यक्ति ने काम होने के दौरान वीडियो बनाया है। जिसके बाद इस मामले का खुलासा हो सकता है।

वीडियो में साफ दिख रहा है कि जन सेवक श्याम सुन्दर पाण्डेय, सहायक अभियंता सुधीर कुमार रवि और कार्यालय के कंप्यूटर ऑपरेटर संतोष कुमार मौजूद है। उक्त सभी कर्मचारी मजदूरों को काम के लिए कई तरह के निर्देश दे रहे है। लेकिन नियमों को ताख पर रखकर बगैर सॉलिंग किए मटेरियल बिछाया जा रहा था और सभी कर्मचारी गवाह के तौर खड़े नजर आ रहे है।

बहरहाल अनियमितता का मामला यही तक खत्म नही होता है। बल्कि किस मद से कार्य किया जा रहा है इसका बोर्ड तक नहीं लगाया गया है। हालांकि प्रखंड कार्यालय परिसर में अनियमितता अधिकारीयों की कमीशन खोरी का जीता जगता उदाहरण है। प्राप्त विडिओ के माध्यम से प्रतीत होता है कि सहायक अभियंता की निगरानी में कार्य हो रहा है।

यदि अधिकारी अपनी नाक के नीचे ही नियमानुसार कार्य नहीं करा सकते तो सपूर्ण प्रखंड क्षेत्र में विकास की कल्पना आप खुद कर सकते हैं।

इधर गारू प्रखंड के जेएमएम प्रखंड अध्यक्ष मंटू मिया ने भी इस मामले को लेकर सवाल खड़ा किया है। उन्होंने कहा मामले की जानकारी मिली है। प्रखंड कार्यालय परिसर में अनियमितता का जो मामला सामने आया है, वह काफी चिंता का विषय है। अगर प्रखंड कार्यालय का ये हाल है तो बाकी अन्य जगह पर संचालित विकास कार्यो की गुणवत्ता का अंदाजा लगाया जा सकता है।

उन्होंने कहा मैं लातेहार डीसी अबु इमरान, गारू प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रताप टोप्पो एवं संबंधित विभाग के अधिकारियों से मांग करता हूं कि इस मामले की तत्काल जांच करते हुए दोषी पदाधिकारियों पर कार्यवाइ करें।

वही बीस सूत्री अध्यक्ष कमरुद्दीन खलीफा नें भी प्रखंड विकास पदाधिकारी से शिकायत कर करवाई की मांग करने की बात कही है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *