Breaking :
||मनिका: करोड़ों की लागत से हो रहे सड़क निर्माण में धांधली, बालू की जगह डस्ट से हो रही ढलाई||पड़ताल: गांव के दबंग ने ज़बरन रुकवाया PM आवास का निर्माण, 4 सालों से सरकारी बाबुओं के कार्यालय का चक्कर लगा रहा पीड़ित परिवार||लातेहार: बंद पड़े अभिजीत पावर प्लांट के सुरक्षा गार्ड की संदेहास्पद मौत, जांच जारी||गढ़वा: पड़ोसी युवक के साथ भागी दो बच्चों की मां, बंधक बनाकर पीटा||भूख हड़ताल पर बैठे पारा मेडिकल कर्मियों की तबीयत बिगड़ी, भेजा अस्पताल||Good News: झारखंड में मरीजों के लिए जल्द शुरू होगी एयर एंबुलेंस की सुविधा, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान||लातेहार: मनिका बालक मध्य विद्यालय में हुई चोरी मामले का खुलासा, तीन गिरफ्तार, चोरी का सामान बरामद||चतरा में सुरक्षाबलों से नक्सलियों की मुठभेड़, एक नक्सली ढेर, देखें तस्वीर||झारखंड: मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प, दर्जनों लोग घायल, तनाव||धनबाद: हजारा अस्पताल में लगी भीषण आग, दम घुटने से डॉक्टर दंपती समेत 5 की मौत

पीसीसी निर्माण कार्य में अनियमितता का मामला उजागर, झामुमो प्रखंड अध्यक्ष ने की जांच की मांग

गोपी कुमार सिंह/गारू

लातेहार ज़िले के गारू प्रखंड कार्यालय परिसर में अनियमितता का मामला उजागर हुआ है। मुख्य सड़क से कार्यालय के गेट तक पीसीसी पथ का निर्माण कार्य कराया गया है। उक्त कार्य बगैर योजना बोर्ड लगाये आनन फानन में रविवार को कराया गया है।

योजना की प्राकलित राशि और लाभुक समिति का जानकारी नहीं मिल पा रहा है। नियमों के ताख पर रखकर काम होते देख किसी जागरूक व्यक्ति ने काम होने के दौरान वीडियो बनाया है। जिसके बाद इस मामले का खुलासा हो सकता है।

वीडियो में साफ दिख रहा है कि जन सेवक श्याम सुन्दर पाण्डेय, सहायक अभियंता सुधीर कुमार रवि और कार्यालय के कंप्यूटर ऑपरेटर संतोष कुमार मौजूद है। उक्त सभी कर्मचारी मजदूरों को काम के लिए कई तरह के निर्देश दे रहे है। लेकिन नियमों को ताख पर रखकर बगैर सॉलिंग किए मटेरियल बिछाया जा रहा था और सभी कर्मचारी गवाह के तौर खड़े नजर आ रहे है।

बहरहाल अनियमितता का मामला यही तक खत्म नही होता है। बल्कि किस मद से कार्य किया जा रहा है इसका बोर्ड तक नहीं लगाया गया है। हालांकि प्रखंड कार्यालय परिसर में अनियमितता अधिकारीयों की कमीशन खोरी का जीता जगता उदाहरण है। प्राप्त विडिओ के माध्यम से प्रतीत होता है कि सहायक अभियंता की निगरानी में कार्य हो रहा है।

यदि अधिकारी अपनी नाक के नीचे ही नियमानुसार कार्य नहीं करा सकते तो सपूर्ण प्रखंड क्षेत्र में विकास की कल्पना आप खुद कर सकते हैं।

इधर गारू प्रखंड के जेएमएम प्रखंड अध्यक्ष मंटू मिया ने भी इस मामले को लेकर सवाल खड़ा किया है। उन्होंने कहा मामले की जानकारी मिली है। प्रखंड कार्यालय परिसर में अनियमितता का जो मामला सामने आया है, वह काफी चिंता का विषय है। अगर प्रखंड कार्यालय का ये हाल है तो बाकी अन्य जगह पर संचालित विकास कार्यो की गुणवत्ता का अंदाजा लगाया जा सकता है।

उन्होंने कहा मैं लातेहार डीसी अबु इमरान, गारू प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रताप टोप्पो एवं संबंधित विभाग के अधिकारियों से मांग करता हूं कि इस मामले की तत्काल जांच करते हुए दोषी पदाधिकारियों पर कार्यवाइ करें।

वही बीस सूत्री अध्यक्ष कमरुद्दीन खलीफा नें भी प्रखंड विकास पदाधिकारी से शिकायत कर करवाई की मांग करने की बात कही है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *