Breaking :
||वेतन नहीं मिलने से नहीं हुआ बेहतर इलाज, गढ़वा में DRDA कर्मी की मौत||लातेहार: हेरहंज में पेड़ से गिरकर युवक की मौत, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल||लातेहार: सड़क दुर्घटना में घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, मुआवजे की मांग को लेकर सड़क जाम||लातेहार: महुआडांड में आदिवासी महिला से दुष्कर्म के बाद बनाया वीडियो, वायरल करने व जान से मारने की धमकी||लातेहार: चंदवा पुलिस ने अभिजीत पावर प्लांट से लोहा चोरी कर ले जा रहे पिकअप को पकड़ा, एक गिरफ्तार||लातेहार: महुआडांड़ में बस और बाइक की जोरदार टक्कर में दो युवकों की मौत, एक गंभीर, देखें तस्वीरें||पलामू: मनरेगा कार्य में लापरवाही बरतने के आरोप में दो जेई सेवामुक्त, एक पर कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश||हेमंत सरकार पर जमकर बरसे अमित शाह, उखाड़ फेंकने का आह्वान||NDA प्रत्याशी सुनीता चौधरी ने किया नामांकन, बोले सुदेश हेमंत सरकार में व्याप्त भ्रष्टाचार, झूठ और वादों को तोड़ने के मुद्दे पर होगा चुनाव||जमानत अवधि पूरी होने के बाद निलंबित IAS पूजा सिंघल ने किया ED कोर्ट में सरेंडर

लातेहार: बुजुर्ग आदिवासी महिला पेंशन राशि से वंचित, प्रशासन से मदद की गुहार

गोपी कुमार सिंह/गारू

लातेहार : जिले के गारू प्रखंड अंतर्गत धांगरटोला पंचायत के बेसनाखाड़ गांव निवासी बुजुर्ग आदिवासी महिला मुनिया कुमारी विधवा पेंशन राशि से वंचित है। जिससे उक्त महिला को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

Kidzee AD

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस संबंध में मुनिया कुमारी ने बताया कि विधवा पेंशन राशि नहीं मिलने के कारण वह इलाज नहीं करा पा रही है। वह बताती हैं कि पहले उनके खाते में पेंशन की राशि आ रही थी। लेकिन इधर लंबे समय से उसे पेंशन की राशि नहीं मिल रही है। इसके लिए वह कई बार पंचायत प्रतिनिधियों से मदद मांग चुकी हैं। लेकिन आज तक उसकी समस्या का समाधान नहीं हो पाया है। जिससे मुनिया कुमारी को भरण-पोषण के लिए काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इधर सरकार ऐसे तमाम योजनाओं को लाभ ग्रामीणों को मुहैय्या कराने के लिए सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन कर रही है। बावजूद इसके ग्रामीणों को इन योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है। जो पूरी तरह से सरकार की योजना पर ही निर्भर है। ऐसे ग्रामीणों को सरकारी लाभ से वंचित करना स्थानीय प्रशासन पर सवालिया निशान है। मुनिया कुमारी ने जिला प्रशासन से पेंशन राशि को दोबारा शुरू कराने की मांग की है।