Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
लातेहार

बूढा पहाड़ के नक्सल प्रभावित गांव पहुंचे DIG पलामू, CRPF DIG, DC व SP, ग्रामीणों से बेहतर संबंध स्थापित करने का प्रयास

रूपेश कुमार अग्रवाल/लातेहार

सामुदायिक पुलिसिंग के तहत ग्रामीणों के बीच आवश्यक सामग्रियों का वितरण

लातेहार : लातेहार व गढ़वा जिला के सीमा पर स्थित बूढ़ा पहाड़ से सट्टे नक्सल प्रभावित गांव पीपल ढाबा, पुनदाग, चरहो, नवाटोली, तीसिया में सामुदायिक पुलिसिंग का आयोजन किया गया।

इस सामुदायिक पुलिसिंग में डीआईजी राजकुमार लकरा, सीआरपीएफ डीआईजी नेगी, उपायुक्त भोर सिंह यादव एवं जिला पुलिस अधीक्षक अंजनी अंजन की उपस्थिति में बच्चों के उज्जवल भविष्य, बुजुर्गों महिलाओं और ग्रामीणों के बेहतर कल के लिए पठन-पाठन की सामग्री, साड़ी, कंबल, धोती, लूंगी, गमछा, चप्पल, फुटबॉल, वॉलीबॉल, बच्चों का कपड़ा, बच्चियों का कपड़ा, स्कूल बैग, कॉपी, कलम, पेंसिल, बर्तन, शादी विवाह या समारोह में उपयोग के लिए बड़े-बड़े बर्तन, टी शर्ट, पैंट का वितरण किया गया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

तीसिया, नवाटोली, पीपल ढाबा, पुनदाग, चिरु के नक्सल प्रभावित गांव में वरिष्ठ पदाधिकारियों को देखकर लोग काफी खुश हुए और सभी को धन्यवाद दिया। साथ ही नक्सलियों के सफाए में पुलिस को सहयोग करने की बात कही।

बूढ़ा पहाड़ से सटे गांव में पुलिस की मौजूदगी देखकर ग्रामीण खुश हुए और कहा कि पुलिस के आने से हमें लग रहा है कि अब हमारा और हमारे बच्चों का भविष्य उज्ज्वल होगा। इस मौके पर जिला पुलिस और सीआरपीएफ के अधिकारी समेत सैकड़ों जवान उपस्थित थे।