Breaking :
||लातेहार: बूढ़ा पहाड़ इलाके में नक्सलियों द्वारा छिपाये गये अत्याधुनिक हथियार व अन्य सामान बरामद||रांची हिंसा मामले में डीसी ने 11 आरोपियों पर मुकदमा चलाने की मांगी अनुमति||धनबाद आशीर्वाद टावर फायर मामले में हाई कोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, सरकार से पूछा- अबतक क्या की गयी कार्रवाई||चाईबासा: IED ब्लास्ट में एक बार फिर तीन जवान घायल, एयरलिफ्ट कर लाया गया रांची||लातेहार: बालूमाथ में सड़क हादसे में घायल युवक की इलाज के दौरान मौत, 17 फरवरी को होनी थी शादी||तैयारी में जुटे छात्र ध्यान दें: झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने एक दर्जन प्रतियोगी परीक्षाओं के विज्ञापन किये रद्द||झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…||लातेहार: अज्ञात अपराधियों ने नावागढ़ गांव में की गोलीबारी, पुलिस कर रही जांच||धनबाद आशीर्वाद टावर अग्निकांड: दीये की लौ ने लिया शोला का रूप, 10 महिलाओं समेत 16 ज़िंदा जले||31 जनवरी से सात फरवरी तक आम लोगों के लिए खुला राजभवन गार्डन

मनिका-बंदुआ रोड पर पैदल चलना भी मुश्किल, लोग जान हथेली पर लेकर करते हैं सफर

कौशल किशोर पांडेय / मनिका

लातेहार : मनिका प्रखंड के मनिका-बंदुआ मार्ग की हालत खराब होने से लोगों का पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। सड़क में गड्ढा है या गड्ढे में सड़क का पता नहीं है। लोग अपनी जान हथेली पर रखकर हजारों हिचकोले खाकर अपनी मंजिल तक पहुंचते हैं।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मनिका-बंदुआ रोड है दर्जनों गांवों की मुख्य सड़क

प्रखंड के जुंगूर, पल्हेया, बंडुआ, डोंकी, जान्हो, बरबैया कला पंचायत के दर्जनों गांवों के लोगों को रोजाना इस कठिन रास्ते से गुजरना पड़ता है। इतना ही नहीं यह मार्ग मनिका व पांकी प्रखंड के कई गांवों को जोड़ता है। एक तरह से मनिका प्रखंड के सबसे अहम रास्तों में से एक है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

सबसे अहम खबर यह है कि यह नाम के पक्की सड़क है, काली सड़क कहीं नजर नहीं आती। सड़क पर जगह-जगह बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं। सड़क पर बने इस गड्ढे से हजारों की संख्या में लोग भगवान के नाम पर प्रतिदिन टेंपू, पैसेंजर कार, बस, बाइक आदि से अपनी जान जोखिम में डालकर गुजरते हैं। इसके बावजूद न तो स्थानीय विधायक और न ही प्रशासन इसे लेकर गंभीर है।

जिला सांसद प्रतिनिधि व भाजपा मंडल अध्यक्ष ने जताया विरोध

गुरुवार को जिला सांसद प्रतिनिधि लव कुमार दुबे, मंडल अध्यक्ष अजीत कुमार, जेआईपी के पूर्व सदस्य महेश सिंह, मंडल महासचिव मंदीप कुमार, दिनेश प्रसाद, लालू साव समेत कई लोगों ने स्थानीय विधायक और सरकार के प्रति नाराजगी जताई।

पंगु हो गई है हेमंत सरकार

सांसद प्रतिनिधि ने कहा कि झारखंड की हेमंत सरकार पूरी तरह पंगु हो गई है। सरकार जनता को धोखा दे रही है। उन्होंने कहा कि स्थानीय विधायक भी इस रास्ते को लेकर गंभीर नहीं हैं। हजारों लोग इस रास्ते से जोखिम भरी यात्रा करने को मजबूर हैं।

उन्होंने कहा कि सड़क का सर्वे पूर्व विधायक हरिकृष्ण सिंह के कार्यकाल में ही हुआ था। इसके बावजूद मौजूदा निक्कमी सरकार लोगों को नर्क में भेजने को तैयार है।

हर बार होते हैं हादसे

ग्रामीण लालू साव का कहना है कि आए दिन बाइक, टेंपू आदि दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस समस्या की सुध लेने वाला कोई नहीं है। ग्रामीणों ने डीसी से इस खस्ताहाल सड़क को अविलंब बनवाने की मांग की है। मौके पर कई लोग मौजूद थे।