Breaking :
||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या||पलामू समेत झारखंड के इन चार लोकसभा सीटों के लिए 18 से शुरू होगा नामांकन, प्रत्याशी गर्मी की तपिश में बहा रहे पसीना||रामनवमी के दौरान माहौल बिगाड़ने वाले आपत्तिजनक पोस्ट पर झारखंड पुलिस की पैनी नजर, गाइडलाइन जारी||झारखंड: प्रचार करने पहुंचीं भाजपा प्रत्याशी गीता कोड़ा का विरोध, भाजपा और झामुमो कार्यकर्ताओं के बीच झड़प||झारखंड में 20 अप्रैल को जारी होगा मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट||कुर्मी को आदिवासी सूची में शामिल करने की मांग से आदिवासी समाज में आक्रोश, आंदोलन की चेतावनी
Tuesday, April 16, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलातेहार

Latehar Breaking : टाना भगतों के आंदोलन से डीसी कार्यालय ठप, अफसरों को बाहर निकाल कर जड़ा ताला

Latehar : अखिल भारतीय टाना भगत संघ के तत्वावधान में बड़ी संख्या में टाना भगत मंगलवार को लातेहार डीसी कार्यालय पहुंचे। ये झारखंड में पंचायत चुनाव रद करने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। इन्होंने लातेहार डीसी कार्यालय को पूरी तरह से ठप कर दिया है। अफसरों को कार्यालय से बाहर करते हुए ताला जड़ दिया है।

अखिल भारतीय टाना भगत संघ के तत्वावधान में बड़ी संख्या में टाना भगत राष्ट्र ध्वज लेकर डीसी कार्यालय पहुंचे हैं। ये घंटी बजाकर पांचवी अनुसूची का हवाला देकर पंचायत चुनाव रद्द करने की मांग पर अड़े हुए हैं।

संविधान की पांचवी अनुसूची का उल्लंघन

आंदोलनकारियों के अनुसार जिले में पंचायत चुनाव कराना संविधान की पांचवी अनुसूची का उल्लंघन है। संविधान की पांचवी अनुसूची में जनजातिये क्षेत्रों में चुनाव को लेकर विशिष्ट अधिकार दिए गए हैं। आंदोलनकारियों ने उपविकास आयुक्त सुरेंद्र कुमार वर्मा को कार्यालय से बाहर निकाल दिया है। इसके अलावा अपर समाहर्ता को भी कार्यालय से बाहर निकाल कर कार्यालय में ताला बंद कर दिया है। डीसी कार्यालय के सभी दफ्तर पूरी तरह से बंद हो गए हैं.उनका कहना है कि किसी भी परिस्थिति में इस इलाके में पंचायत चुनाव नहीं होने दिया जाएगा।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

क्या कहते हैं संघ के अध्यक्ष

अखिल भारतीय टाना भगत संघ के जिलाध्यक्ष परमेश्वर भगत ने कहा कि आदिवासियों के कई संगठनों ने जिला प्रशासन को कई बार आवेदन देकर पांचवी अनुसूची के अनुसार कार्य करने की बात कही है। लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया। अब आंदोलन ही एकमात्र समाधान है। पंचायत चुनाव रद होने तक टाना भगतों का आंदोलन जारी रहेगा।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

Latehar टाना भगत आंदोलन